VDO ओडिशा प्रांत से हरहाल में धान नहीं आने और स्थानीय किसानों से सुगमता से खरीदें धान: कलेक्टर

घुटकेल में धान खरीदी केन्द्र, स्कूल, स्वास्थ्य केन्द्र व छात्रावास का किया निरीक्षण




धमतरी ।नगरी विकासखण्ड के ओड़िशा राज्य से सटे ग्राम घुटकेल एवं लिखमा में कलेक्टर रजत बंसल ने आज सतत् दौरा कर स्कूल, छात्रावास, उप स्वास्थ्य केन्द्र सहित धान खरीदी केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने सहकारी समिति के प्रबंधक तथा अध्यक्ष को स्पष्ट रूप से निर्देशित किया कि ग्राम की सीमा से लगे ओड़िशा राज्य से यहां के खरीदी केन्द्र में किसी भी सूरत में धान नहीं विक्रय नहीं होना चाहिए, इसके लिए प्रत्येक स्तर पर जांच सुनिश्चित करने के निर्देश उन्होंने दिए। साथ ही कलेक्टर ने यह भी कहा कि स्थानीय पात्र कृषकों के धान की खरीदी सहजता व सुगमता से हो यह भी सुनिश्चित करें।

कलेक्टर नगरी विकासखण्ड के अंतिम छोर में बसे ग्राम घुटकेल पहुंचे। यहां पर सबसे पहले वे धान उपार्जन केन्द्र गए, जहां क्षेत्र के किसानों के द्वारा लाए गए का धान का उन्होंने स्वयं आर्द्रता (नमी) के प्रतिशत का परीक्षण किया तथा उसकी गुणवत्ता परखी। इस दौरान कलेक्टर ने ओड़िशा से यहां अवैध रूप से विक्रय के लिए हरहाल में धान नहीं आने के सख्त निर्देश दिए, साथ ही स्थानीय स्तर पर कोचियों पर भी निगाह रखने के लिए निर्देशित किया। इस दौरान उन्होंने एसडीएम नगरी  सुनील कुमार शर्मा को फौती नामांतरण से संबंधित कार्य तत्काल पूर्ण करने के निर्देश दिए। मौके पर उन्होंने किसानों से चर्चा कर उन्हें आश्वस्त किया कि सभी किसानों से शासन के नियमानुसार मानक स्तर का धान खरीदा जाएगा।

तदुपरांत उन्होंने मिडिल स्कूल में जाकर विद्यार्थियों से चर्चा की तथा उनकी मांग पर फर्नीचर की व्यवस्था शीघ्र करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिए। तत्पश्चात् उन्होंने बच्चों के साथ जमीन पर बैठकर मध्याह्न भोजन का स्वाद भी चखा। इसके बाद वे ग्राम पंचायत घुटकेल में स्थित प्री-मैट्रिक छात्रावास का भी औचक निरीक्षण कर वहां पर व्यवस्थाओं का अवलोकन किया।

इसके अलावा हायर सेकण्डरी स्कूल में गणित संकाय के शिक्षक की कमी बताई गई, जिस पर कलेक्टर ने तात्कालिक तौर पर डीएमएफ मद से शिक्षक की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए डी.ई.ओ. को निर्देशित किया। तदुपरांत घुटकेल के उप स्वास्थ्य केन्द्र और आयुर्वेद औषधालय का भी निरीक्षण किया।

इसके पश्चात् ग्राम लिखमा में गौठान का उन्होंने निरीक्षण कर गौठान समिति के सदस्यों से चर्चा कर गौठान से आय अर्जित करने के संबंध में चर्चा भी की। यहां पर कृषि विभाग द्वारा बनाए गए नाडेप टैंक, सी.पी.टी. आदि की गुणवत्ता का परीक्षण किया। इसके अलावा लिखमा के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का भी कलेक्टर ने अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने ग्राम बोरई में पोस्टमाॅर्टम शेड निर्माण करने के निर्देश कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग को दिए। तदुपरांत आयुष विभाग द्वारा ग्राम सेमरा में आयोजित आयुष विभाग के स्वास्थ्य शिविर में पहुंचकर कलेक्टर ग्रामीणों से रू-ब-रू हुए। उन्होंने सुपोषण अभियान के तहत ग्रामीणों का डोर-टू-डोर सर्वे कर प्रतिवेदन तैयार करने के निर्देश आयुर्वेद अधिकारी को दिए। इसके अलावा कलेक्टर ने इको-टुरिज्म को बढ़ावा देने व स्थानीय ग्रामीणों की जनभागीदारी सुनिश्चित करने एसडीएम को निर्देश दिए।
बाईट -रजत बंसल कलेक्टर धमतरी

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने