सीजी हाट आॅनलाइन सेवा, से जुड़ें,सब्जी-फलों की घर-पहुंच सेवा मिलेगी


 कलेक्टर ने बैठक लेकर विक्रेता-क्रेता का पंजीयन शीघ्रता से करने दिए निर्देश

धमतरी । छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी योजना सी.जी. हाट के तहत अब जिले के सब्जी एवं फल विक्रेता और क्रेता इसमें पंजीयन कराकर घर-पहुंच सेवा प्राप्त कर सकते हैं। वर्तमान समय में कोविद-19 वायरस के चलते सोशल एवं फिजीकल डिस्टेंसिंग के नियमों के परिप्रेक्ष्य में यह आॅनलाइन सुविधा निश्चित तौर पर मील का पत्थर साबित होगी। कलेक्टर रजत बंसल ने आज संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक लेकर जिले के सब्जी उत्पादकों 
का विकासखण्डवार पंजीयन युद्ध स्तर पर करने के निर्देश दिए।जुड़ें 
बैठक में उन्होंने बताया कि उक्त सी.जी. हाट प्रदेश शासन की आॅनलाइन सेवा है, जिसमें क्रेता और विक्रेता वेबसाइट में जाकर अपना पंजीयन आसान तरीके से करके पंजीकृत हो सकते हैं। इससे सब्जी और फलों की होम डिलीवरी सुनिश्चित हो सकेगी। कलेक्टर ने बताया कि जिले के अब तक 138 सब्जी विक्रेताओं का पंजीयन पूर्ण हो चुका है, जो कि प्रदेश में दूसरा सर्वाधिक पंजीयन वाला जिला है। कलेक्टर ने किसान बाजार के सब्जी उत्पादक किसानों का 
भी शीघ्रता से पंजीयन कराने और सेवाएं प्रारम्भ करने के लिए निर्देशित किया। साथ ही इसके लिए ग्राम एवं नगरीय निकायों में भी मुनादी कराकर प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। आने वाले दिनों में इसके लिए आगामी 30 अप्रैल तक इसका माॅडल तैयार करने के निर्देश कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन विभाग के अधिकारियों को दिए। बैठक में उपस्थित जिला पंचायत की सी.ई.ओ. नम्रता गांधी ने सीजी हाट आॅनलाइन खरीदी-बिक्री सेवा में अधिकाधिक सहभागिता बढ़ाने के लिए उत्पादक किसानों का पंजीयन जल्द से जल्द करने पर जोर दिया। इस अवसर पर संबंधित विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।
 क्या है सी.जी. हाट:- सी.जी. हाट छत्तीसगढ़ शासन की आॅनलाइन शाॅपिंग सेवा है, जिसका शुभारम्भ मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा विगत दिनों किया गया। यह एक बेहद आसान आॅनलाइन सर्विस है जिसमें विक्रेता कुछ जानकारियां भरकर तुरंत पंजीयन कर सकता है, जिसमें मोबाइल नंबर, नाम, अपने जिले व शहर का नाम व पता भरकर पंजीयन कर सकता है। इसी तरह क्रय करने वाला ग्राहक भी इन्हीं जानकारियों को भरकर सरल ढंग से अपना पंजीयन कर सकता है। इस संबंध में बताया गया कि इसके पहले चरण में सब्जियों एवं फलों का क्रय-विक्रय
किया जाएगा। वर्तमान में उक्त वेबसाइट में 40 प्रकार के फल और 70 प्रकार की सब्जियां पंजीकृत हैं। इसमें पंजीयन के लिए बहींजण्पद लिंक पर जाकर पोर्टल पर ओपन करना होगा। इसके तहत अब तक जिले के 138 विक्रेता पंजीकृत हो चुके हैं। यह प्रदेश में दूसरी सर्वाधिक संख्या है। प्रदेश सरकार द्वारा एक हेल्पलाइन नंबर 8269696499 जारी किया गया है, जिसमें काॅल अथवा वाट्सएप पर अधिक जानकारी सुबह आठ से रात्रि आठ बजे तक ली जा सकती है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने