कहां है आर्थिक मंदी: धमतरी में पहले ही दिन लगभग डेढ़ करोड़ के शराब की हुई बिक्री,40 दिनों बाद गला तर करने सुबह से ही पहुंचे लोग

सोशल डिस्टेंसिंग की शर्त पर  जिले की सभी 26 मदिरा दुकानें खुलीं



धमतरी, 04 मई 2020/ राज्य शासन के निर्देशानुसार कलेक्टर  रजत बंसल ने जिले की 17 देशी तथा 9 विदेशी मदिरा दुकानों को खोलने का आदेश जारी किया है। सभी 26 दुकानें अब सुबह आठ बजे से दोपहर तीन बजे तक खुली।  किन्तु इसके लिए सोशल एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग की शर्तों का सख्ती से पालन करने के भी निर्देश जारी किए गए हैं। सुबह आठ बजे से ही जिले की मदिरा दुकानें खुल गईं, जहां पर राजस्व, आबकारी तथा पुलिस विभाग के जवानों के द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का कड़ाई से पालन करने की अपील की जा रही है तथा लोगों को इन्हीं शर्तों के आधार पर मदिरा का विक्रय किया जा रहा है।  आबकारी अधिकारी एमके जायसवाल ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार इस बार एक व्यक्ति 16 पव्वा तक खरीद सकता है। बोतल में 4 और बियर भी चार बोतल ले जाने की छूट है।प्रत्येक लोगों को मुंह पर अनिवार्य रूप से मास्क लगाने, दुकानों में रखे गए हैण्डवाॅश तथा सैनिटाइजर से हाथ धोने की भी अपील की जा रही है।मिली जानकारी के अनुसार पहले दिन 1 करोड़ 48 लाख के शराब की बिक्री हुई है ।



 कलेक्टर ने सभी क्रेताओं से सोशल एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग के संबंध में शासन के निर्देशों का पालन करने के साथ-साथ सुरक्षित ढंग से ज्यादातर समय घर पर व्यतीत करने और आवश्यक होने पर ही पूरी सुरक्षा के साथ बाहर जाने की अपील की है।

सुबह से ही अनुविभागीय अधिकारियों ने अपने अधीनस्थ विकासखण्ड में स्थित मदिरा दुकानों में मातहतों के साथ दौरा कर सोशल डिस्टेंसिंग सहित शासन के अन्य निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराने निरीक्षण किया।
बढ़ती कीमतों से हुई निराशा 

राज्य शासन ने पूर्व में शराब की जो कीमत में वृद्धि की थी उसके हिसाब से प्लेन पाव 70 मसाला 80रु  रखा गया था ।लेकिन आज जब देसी शराब लेने पहुंचे लोगों को उस समय निराशा हुई जब कीमतें ज्यादा नजर आई ।प्लेन बोतल 280 अद्धी150 और पाव 80 रु इसी तरह मसाला बोतल 320 अद्धी170 और पाव 90 रखा गया।
 शराब के लिए कहां से आया पैसा 

लॉक डाउन के चलते आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के पास इन दिनों आय का साधन कम होने से पैसों की किल्लत है ।लेकिन शराब पीने के लिए लोगों ने पैसों का जुगाड़ कर रखा है। इसका सबूत भारी संख्या में भीड़ का होना है ।इस संबंध में जब लोगों से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि शराब के लिए व्यवस्था हो जाती है। लाइन में खड़े लोग बड़े उत्साहित नजर आए ।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने