नाबालिग बेटे के साथ मिलकर पिता ने किया हत्या का प्रयास, हुआ चंद घंटे के भीतर गिरफ्तार




 थाना अर्जुनी अंतर्गत ग्राम तरसींवा की घटना, घटना में प्रयुक्त चाकू जप्त

 धमतरी 28 मई 2020।  थाना अर्जुनी अंतर्गत ग्राम तरसीवा निवासी संतोष साहू ने  थाना अर्जुनी  आकर रिपोर्ट दर्ज कराई  कि 27 मई की रात्रि करीबन 9:15 बजे झगड़ा विवाद होने की आवाज सुनकर गया तो देखा कि साहू भवन के पास गांव के ही रहने वाले कुंभकरण नेताम और उसका लड़काउसके  भतीजे  अजय साहू को पकड़कर उसके साथ मारपीट कर रहे थे जिन्हें आवाज देने पर दोनों भाग गए, अजय साहू खून से लथपथ जमीन में गिर गया। वहां पर उपस्थित अन्य लोगों ने बताया कि अजय साहू की हत्या करने की नीयत से कुंभकरण नेताम और उसके पुत्र ने मिलकर अपने पास रखे चाकू से अजय के पेट, कमर, पीठ एवं बाह में संघातिक एवं प्राणघातक वार कर गंभीर चोट पहुंचाए कि प्रार्थी की रिपोर्ट पर कुंभकरण नेताम और उसके पुत्र के विरुद्ध थाना अर्जुनी में धारा 307, 34 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

        अपराध की सूचना पुलिस अधीक्षक  बी.पी. राजभानु को मिलने पर तत्काल आरोपी को गिरफ्तार कर वैधानिक कार्यवाही करने थाना प्रभारी अर्जुनी को निर्देशित किया गया, जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी अर्जुनी उमेंद टंडन अपने स्टाफ के साथ घटनास्थल पर मिले भौतिक साक्ष्यों को एकत्रित कर आरोपी कुंभकरण नेताम के सकुनत में दबिश देने गए।  आरोपी कुंभकरण नेताम अपने नाबालिक पुत्र सहित घर पर मिला, जिसे अभिरक्षा में लेकर कड़ाई से पूछताछ किया गया। आरोपी कुंभकरण नेताम ने मेमोरेंडम कथन में अपने नाबालिग पुत्र के साथ पुराने विवाद को लेकर अजय साहू की हत्या करने की नियत से उस पर प्राणघातक वार करना एवं चाकू को छुपा कर रखना बताया तथा गवाहों के समक्ष घटना में प्रयुक्त चाकू को पेश करने पर विधिवत जप्त किया गया। आरोपी कुंभकरण नेताम पिता महेश नेताम निवासी ग्राम तरसीवा थाना अर्जुनी जिला धमतरी को विधिवत गिरफ्तार किया गया एवं उसके नाबालिग पुत्र विधि से संघर्षरत बालक को अभिरक्षा में लेकर दोनों को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमांड प्राप्त किया गया है। उक्त घटना में पीड़ित अजय साहू को प्राथमिक उपचार बाद बेहतर उपचार हेतु हेयर सेंटर रिफर किया गया है जो वर्तमान में मेडिसिन अस्पताल रायपुर में उपचाररत् है, जिससे पूछताछ कर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।
  

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने