दो नाबालिगों की हत्या करने उठा लिया था टंगिया,चंद सेकंड में बची जान,आरोपी गिरफ्तार






 पूर्व में पीड़ित परिवार के बयान पर आरोपी को हुई थी बड़ी सजा, इसलिए रखता था रंजिश व बदला लेने की देता था धमकी




   ब्यूरो 
धमतरी।  थाना अर्जुनी अंतर्गत ग्राम परेवाडीह निवासी गैंदलाल साहू द्वारा अपने गांव के ही दिनेश कुमार साहू की दो नाबालिक बच्चियों (उम्र 01 वर्ष व 04 वर्ष) का अपहरण कर अपने घर में ले जाकर बंद कर रखने की सूचना ग्रामवासियों द्वारा पुलिस को दी गई। सूचना पर पुलिस अधीक्षक  के निर्देश पर तत्काल अर्जुनी पुलिस मौके पर पहुंची, इसके पूर्व ही ग्रामवासियों ने तत्परता व सूझबूझ से कार्यवाही करते हुए दोनों नाबालिग बालिकाओं को गैंदलाल साहू के मकान से उसके कब्जे से सुरक्षित बाहर निकालकर गांव में एक बड़ी घटना घटित होने से रोका गया। अर्जुनी पुलिस मौके पर घेराबंदी करते हुए आरोपी गैंदलाल साहू को धारदार टंगिया सहित पकड़करगिरफ्तार कर लिया ।
ग्रामवासियों ने बताया कि करीबन 11 वर्ष पूर्व अन्य मामले की रिपोर्ट पर आरोपी गैंदलाल साहू के विरुद्ध पंजीबद्ध अपराध में प्रार्थी दिनेश कुमार साहू की मां उमा बाई साहू अपना बयान दी थी, जिसके आधार पर माननीय न्यायालय द्वारा आरोपी गैंदलाल साहू को बड़ी सजा सुनाई गई थी। तब से वह इस परिवार से रंजिश रखता था तथा कुछ दिन पूर्व ही जेल से छूटकर आया था और बदला लेने की नीयत से दिनेश कुमार साहू एवं उसके परिवार को धमकी देते हुए मौके की तलाश कर रहा था, 28 मई की रात करीबन 9:30 बजे दिनेश कुमार साहू की दोनो नाबालिग बेटी को अकेला देखकर उन्हें गैंदलाल साहू अपने घर ले जाकर बंद कर दिया। वह बच्चों  को मरने के नियत से टंगिया उठा लिया था तभी उसके भाई ने देख लिया ।जब इसकी सूचना प्रार्थी दिनेश कुमार साहू व ग्रामवासियों को हुई तो सूझबूझ से त्वरित कार्यवाही कर दोनों नाबालिग बच्चियों को आरोपी गैंदलाल साहू के मकान कमरा से उसके कब्जे से सुरक्षित बाहर निकाला गया ।आरोपी गैंदलाल साहू के विरुद्ध  धारा 364, 342 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया। आरोपी गैंदलाल साहू ने पूछताछ के दौरान बदला लेने के लिए दोनों नाबालिग बालिकाओं की धारदार टंगिया से हत्या करने की नीयत से उनका अपहरण कर अपने घर ले जाना स्वीकार करने एवं धारदार टंगिया पेश करने पर जप्त कर विधिवत गिरफ्तार कर  न्यायालय के समक्ष पेश कर ज्युडिशियल रिमांड प्राप्त किया गया है। 

         

       उक्त घटना की सूचना एवं आरोपी गैंदलाल साहू को थाना अर्जुनी लाने की जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक  बी.पी. राजभानू एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  मनीषा ठाकुर रावटे तत्काल थाना अर्जुनी पहुंचे । पुलिस अधीक्षक ने ग्रामवासियों की सूझबूझ से दोनों नाबालिग बच्चियों को सुरक्षित बचाने में महत्वपूर्ण योगदान दिए जाने पर उनकी प्रशंसा करते हुए एक बहुत बड़ी घटना घटित होने के पूर्व उसे रोकने में पुलिस का सहयोग करने पर तारीफ कर धन्यवाद दिए और कहा कि कोई भी सूचना हो उसे सीधे अपने थाना को एवं मुझे दे सकते हैं, किसी से डरने या घबराने की आवश्यकता नहीं है, धमतरी पुलिस सदैव आपकी सुरक्षा एवं सहयोग हेतु तत्पर है।
 

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने