Video: गंगरेल बांध से 8100 क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज जारी,रुद्री और गंगरेल को निहारने बड़ी संख्या में पहुंचे सैलानी




भूपेंद्र साहू
धमतरी। पिछले दिनों से हुई बारिश के चलते गंगरेल बांध में पानी की बम्पर आवक की वजह से गंगरेल बांध के 3 गेट खोले दिये गए है, जहां से रविवार शाम की स्थिति में 8104 क्यूसेक पानी अलग-अलग माध्यम से छोड़े जा रहे हैं। साथ ही रुद्री डैम के 12 गेट खोल दिए गए हैं।
रुद्री बराज
फिलहाल गंगरेल बांध 95.08 प्रतिशत भर चुका है, शनिवार को शाम 6 बजे की स्थिति में गंगरेल बांध का जलस्तर 348.30 मीटर है, बांध में कुल जलभराव 30.818 टीएमसी हो चुका है जबकि उपयोगी जल 25.747 टीएमसी है। 8104 क्यूसेक पानी की आवक हो रही है।


गेट नंबर 7, 8 9 से  डिस्चार्ज 6 हजार 104 क्यूसेक किया जा रहा है।1 हजार 650 क्यूसेक प्रति सेकंड पानी पेन स्टॉक से छोड़ा जा रहा है। वही एचअर से केनाल में 350 क्यूसेक छोड़ा जा रहा है। कुल 8104 क्यूसेक पानी डिस्चार्ज किया जा रहा है। रुद्री जल संसाधन विभाग के एसडीओ बीएस कुंजाम ने बताया कि आवक को देखते हुए बराज के 12 गेट से 9000 क्यूसेक पानी महानदी में छोड़ा जा रहा है।

इधर गंगरेल और रुद्री बैराज के गेट खुलने की सूचना मिलते ही रविवार के दिन छुट्टी होने की वजह से बड़ी संख्या में सैलानी बाढ़ का पानी निहारने पहुंचने लगे थे ।जिसकी वजह से गंगरेल और रुद्री में जमकर भीड़ दिखाई दी ।गेट खोलने की जगह पर लोग पहुंच कर फोटो खींचते हुए नजर आए ।रुद्री में भी बराज के ऊपर और अन्य जगहों पर लोग पहुंच कर इसे अपने कैमरे में कैद करते हुए दिखाई  दिए।

खतरों के बीच लोग --


कुछ लोग अपनी जान की परवाह किए बगैर खतरों के बीच पहुंचकर फोटो लेते हुए दिखाई दिए जिससे कभी भी अप्रिय वारदात हो सकती है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने