"सीख" कार्यक्रम के तहत पढ़ाई के अलावा कबाड़ से जुगाड़ भी रहे ग्राम बासीन के शिक्षक



 प्रदर्शित मॉडल अरविंदो सोसायटी दिल्ली हेतु चयनित
 

धमतरी 20 सितम्बर 2020।वैश्विक आपदा कोविड के असहज और प्रतिकूल समय में भी जिले के शिक्षक "पढ़ाई तुहर दुवार" के अन्तर्गत अपने  कर्तव्य का निर्वहन न सिर्फ बेहतर ढंग से कर रहे हैं, बल्कि नवाचारी गतिविधियों से नौनिहालों के हुनर को तराश रहे हैं। प्रदेश शासन की मंशा अनुरूप कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य के मार्गदर्शन में नगरी ब्लॉक के ग्राम बासीन के शिक्षक के द्वारा शून्य निवेश से कबाड़ से जुगाड़ करने की कला सिखा रहे हैं।

नगरी विकासखंड के संकुल केंन्द्र बेलरबाहरा की शासकीय प्राथमिक शाला बासीन में कार्यरत सहायक शिक्षक एलबी सुरेंद्र प्रजापति के द्वारा वैश्विक महामारी कोविद -19 को ध्यान में रखते हुए जिला "सीख"एवं "पढ़ाई तुहर दुवार"कार्यक्रम के तहत  "शून्य "निवेश पर आधारित "कबाड़ से जुगाड़" करते हुए बच्चों को सरल, सहज,व रोचकपूर्ण तरीके से अध्ययन- अध्यापन करा रहे, गतिविधि आधारित शिक्षा प्रदान करने में अपनी भूमिका सुनिश्चित कर रहे हैं। शिक्षक श्री प्रजापति के द्वारा "सौर मंडल" व ग्रह नक्षत्रों की जानकारी प्रदान करने हेतु "नवग्रह चक्र" मॉडल का प्रदर्शन बच्चों के द्वारा प्रयोग, संवाद एवं अभिनय के माध्यम से किया जा रहा है। उक्त मॉडल का प्रदर्शन जिला स्तर पर धमतरी स्थित कलार समाज भवन में किया गया, जिसके बाद इस मॉडल को श्री अरविंदो सोसायटी दिल्ली नोएडा द्वारा चयन किया गया। इसकी सफलता के लिए जिला शिक्षा अधिकारी  रजनी नेल्सन सहित विभाग के अधिकारियों ने अपनी बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने