उत्तर प्रदेश - दलित किशोरी की सिर कुचलकर नृशंस हत्या


अकरम खान

लखनऊ  उत्तर प्रदेश में  अपराध की एक के बाद एक घटनाएं सामने आ रही हैं। हाथरस मामले को लेकर पूरे देश में उबाल है  बलरामपुर की घटना भी शर्मसार करने वाली है। वहीं  भदोही  जिले के गोपीगंज इलाके में एक 14 साल की दलित किशोरी की सिर कुचलकर नृशंस हत्या कर दी गई है। मामले में रेप की आशंका जताई जा रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक, भदोही जिले में गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र के एक गांव निवासी 14 वर्षीय दलित किशोरी गुरुवार को दोपहर अचेतावस्था में घर से कुछ दूर स्थित  खेत में मिली। अस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने बेटी की रेप के बाद हत्या करने की बात कही। उसके सिर को बुरी तरह कुचला गया था, जबकि शरीर से कपड़े गायब थे। उधर, घटना की जानकारी के बाद मौके एसपी रामबदन सिंह व कुछ देर बाद आईजी पियूष बरनवाल पहुंचे। शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।किशोरी दिन में करीब एक बजे शौच के लिए खेत की ओर गई थी। करीब घंटे भर बाद उसके वापस न आने पर परिजनों को चिंता हुई। आसपास तलाश करने पर घर से कुछ दूर स्थित बाजरे के खेत में वह लहूलुहान अचेतावस्था में मिली। उसे गोपीगंज नगर स्थित एक निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी पुलिस कंट्रोल रूम को मिलने के बाद मौके पर क्राइम ब्रांच, थाने व यूपी-112 के जवान पहुंचे।पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने बताया कि किशोरी शौच को गई थी। उसकी निर्मम हत्या की गई है। हत्या का कारण दुराचार प्रतीत हो रहा है। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सही कारण पता चल पाएगा। क्राइम ब्रांच व पुलिस की टीम लगा दी गई है। जल्द ही प्रकरण का खुलासा कर दिया जाएगा। उधर, मृत किशोरी की मां ने भी बेटी की रेप के बाद हत्या की बात कही है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने