बालक शाला कुरुद में हिंदी माध्यम को बन्द करने के विरोध में विद्यार्थियों ने अजजा आयोग उपाध्यक्ष राजकुमारी दीवान को सौंपा ज्ञापन

 




मुकेश कश्यप 

 कुरुद ।छत्तीसगढ़ प्रदेश सरकार द्वारा स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल संचालित हेतु प्रदेश के विभिन्न विकासखण्डों के वर्तमान में संचालित शासकीय हिंदी माध्यम स्कूलों का चयन कर प्रस्ताव में लाने की तैयारी की जा रही है। जिसके तहत कुरुद विकासखंड के शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कुरुद को चयनित कर धमतरी कलेक्टर द्वारा गत दिनों निरीक्षण किया गया है। जिसके बाद से वर्तमान में अध्ययनरत विद्यार्थियों  तथा पालकों द्वारा नाराजगी देखने को मिल रही है। पूर्व एवं वर्तमान विद्यार्थियों ने शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय को अंग्रेजी माध्यम के साथ-साथ यथावत हिंदी माध्यम से संचालित करने अजजा आयोग प्रदेश उपाध्यक्ष राजकुमारी दीवान के माध्यम से स्कूली शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम तथा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को मांग पत्र सौंपा।



           ज्ञात हो कि नगर में सत्र 1956 से एक मात्र संचालित ऐतिहासिक शिक्षण संस्था जो की अपने 50 वर्ष पूर्ण कर स्वर्ण जयंती मना क्षेत्र को गौरान्वित किया है। इस संस्था से हिंदी माध्यम से शिक्षा ग्रहण कर हजारों विद्यार्थियों ने डॉकटर, इंजीनियर, वकील, आईएएस अधिकारी, राजनेता आदि पदों पर सुशोभित हुए हैं। ऐसे में प्रारंभ से ही बालक - बालिकाओं की विभाजित शैक्षणिक व्यवस्था के बीच क्षेत्र के एकमात्र शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक शाला कुरुद के मूल पाठ्यक्रम हिंदी माध्यम को पूर्णतः बन्द कर अंग्रेजी माध्यम से अध्यापन कार्य संचालित प्रारंभ करने की खबर से विद्यार्थियों तथा पालकों में नाराजगी व्याप्त है। जिसके चलते आज अजजा आयोग उपाध्यक्ष राजकुमारी दीवान को  अंग्रेजी माध्यम प्रारंभ के साथ -साथ हिंदी माध्यम को यथावत संचालित रखने हेतु स्कूली शिक्षा मंत्री एवं मुख्यमंत्री को मांग पत्र ज्ञापन सौंपा गया।



           ज्ञापन सौंपने वाले में मुख्यरूप से तुकेश साहू, आशीष शर्मा,चंदन कोसरिया, हरीश कोसरिया, पेमेंद्र निर्मलकर, परमानंद साहू,चिंटू देवांगन, टिकेश्वर विश्वकर्मा,देवेन्द्र,इंद्रजीत, प्रीतम,आलोक, किशोर, तेजनारायण, धन्नजय, खिलेश साहू, नमन श्रीवास, कुलेश्वर, केशव ध्रुव, यादराम, राहुल जगत, फलेश निर्मलकर, लक्षमन यादव,टिकेश कुमार, जयसुर्य , करन कुमार , युगेंद , राजेश साहू आदि थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने