देखते ही देखते बांध में डूबते हुए को बचाया एनडीआरएफ की टीम ने

 


 

माॅक ड्रिल के जरिए दिखाया डूबते को बचाने का हुनर


कलेक्टर-एसपी सहित अधिकारियों की मौजूदगी में गंगरेल जलाशय में किया गया प्रदर्शन

धमतरी 12 जनवरी 2021। राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल (एनडीआरएफ) के द्वारा मंगलवार को गंगरेल स्थित रविशंकर सागर जलाशय में आपातकालीन आपदा प्रबंधन के अंतर्गत पानी में डूबते हुए बचाने, उसका प्राथमिक उपचार करने तथा आपदा राहत के लिए उपयोग किए जाने वाले उपकरणों का प्रदर्शन वाॅटर स्पोट्र्स जोन में कलेक्टर  जयप्रकाश मौर्य, एसपी बी.पी. राजभानू सहित विभिन्न विभागों के अधिकारियों की मौजूदगी में किया गया। 

कलेक्टर ने प्रदर्शन के उपरांत संबोधित करते हुए कहा कि देश में एनडीआरएफ आपदा प्रबंधन के श्रेष्ठ क्रियान्वयन के लिए विख्यात है। इसके जवान अपनी जान हथेली पर लेकर शीघ्रता और बुद्धिमतापूर्वक दूसरों की जान बचाते हैं। उन्होंने कटक से आई टीम को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन की लिए अपनी शुभकामनाएं देते हुए जिला प्रशासन की ओर से यथासंभव सहयोग एवं समन्वय करने की बात कही। इसके पहले मुण्डली कटक, ओडिशा की नेशनल डाइजास्टर रिस्पाॅन्स फोर्स (एनडीआरएफ) के जवानों की टीम के द्वारा आज दोपहर 12.30 बजे वाॅटर स्पोट्र्स जोन में डूबते हुए युवक को पानी से बचाने के लिए किए जाने वाले क्विक रिस्पाॅन्स का प्रदर्शन इस दौरान किया गया।

एनडीआरएफ के जवानों ने पहले अपनी तीन अलग-अलग बोट में आपातकालीन जीवन रक्षा का प्रदर्शन किया। उन्होंने लाइफ बाॅय ने लाइफ जैकेट पहनकर माॅक ड्रिल किया। डूबते हुए जवान को बचाने त्वरित कार्रवाई करते हुए उसके पास तेजी से जाकर बोट में डाला, फिर दूसरी टीम जो किनारे पर खड़ी थी, के द्वारा पीड़ित को लेकर अस्थायी तौर पर बनाए गए प्राथमिक उपचार कक्ष में ले जाकर उसे होश में लाने के उपाय निर्धारित समय-सीमा में किए गए। इसके अलावा खाली बोतल, जेरिकेन तथा सूखे नारियल से तैयार किए गए लाइफ जैकेट का भी प्रदर्शन इस दौरान किया गया।
यू-सेफ उपकरण को कलेक्टर ने सराहा- माॅक ड्रिल के दौरान एनडीआरएफ टीम के द्वारा यू-सेफ नामक रिमोट कंट्रोल से चलने वाले उपकरण की भी नुमाइश की गई। 


सेंसर के माध्यम से चलने वाले उक्त मानवरहित उपकरण को पीड़ित तक तेजी से पहुंचाने और उसे लेकर किनारे तक लाने का रिहर्सल इस दौरान किया गया। कलेक्टर ने यू-सेफ की सराहना करते हुए उन्होंने स्वयं रिमोट कंट्रोल चलाकर इंस्ट्रुमेंट को आॅपरेट भी किया। इस अवसर पर एनडीआरएफ के डिप्टी कमाण्डेंट धनंजय कुमार, टीम कमाण्डर यूएस प्रसाद, अपर कलेक्टर  दिलीप कुमार अग्रवाल, एसडीएम धमतरी  मनीष मिश्रा, जिला कमांडेंट होमगाॅर्ड  एस.के. शुक्ला सहित जिले के अधिकारियों ने भी माॅक ड्रिल का अवलोकन किया।

 

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने