व्यायाम शिक्षक संघ ने बोनस अंक व शारीरिक शिक्षा को अनिवार्य सिद्धांत विषय करने की मांग की

  


धमतरी।छत्तीसगढ़ व्यायाम शिक्षक संघ के तत्वाधान में शिक्षा मंत्री  प्रेमसाय सिंह टेकाम से निवास पर मुलाकात कर राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर स्कूली खिलाड़ियों द्वारा पदक प्राप्त किया है उन्हें इस वर्ष भी पिछले प्रदर्शन के आधार पर 10वीं एवं 12वीं की बोर्ड परीक्षा में बोनस अंक प्रदान करने की मांग की है।

 बताया गया कि यह खिलाड़ी पिछले वर्ष नवमी एवं 11वीं की स्थानीय परीक्षा में थे जो इस वर्ष दसवीं एवं बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में है। कोरोना काल की वजह से पढ़ाई व खेल ना हो पाने  से पूर्व वर्ष में पदक प्राप्त खिलाड़ियों को इस वर्ष बोनस अंक प्रदान करने की जाए।साथ ही नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा विभाग में शारीरिक शिक्षा को अनिवार्य सिद्धांत विषय के रूप में शामिल करने की मांग की गई है ।इस संबंध में शिक्षा मंत्री,सचिव स्कूल शिक्षा विभाग ने आवश्यक कार्यवाही का आश्वासन दिया। 

संघ ने कहा आज डिप्रेशन व कोरोना जैसी महामारी से बचने के लिए सिर्फ खेल व्यायाम योग व ध्यान ही एकमात्र विकल्प है जिसे प्राथमिक स्तर से स्कूलों में अनिवार्य विषय के रूप में लागू कर छत्तीसगढ़ को स्वस्थ बनाने संघ के द्वारा विभाग से मांग की गई।प्रतिनिधिमंडल में प्रांताध्यक्ष हरीश देवांगन,संजय शुक्ला, पीताम्बर पटेल,अखिलेश दुबे,बी आर साहू,लाल बहादुर सोनकर,वरुण पांडेय,ताराचंद जायसवाल,संदीप शर्मा शामिल थे।

उपरोक्त मांगो के संबंध में  मुख्यमंत्री,शिक्षामंत्री से उचित पहल करने की मांग जिला धमतरी से प्रदीप सिन्हा(अध्यक्ष),राजकुमार सिन्हा, सुनील सिन्हा, प्रफुल्ल योगी,ममता ठाकुर,प्रखर श्रीवास्तव, जे पी देव,नवनीत पचौरी,सतीश साहू,निर्मला सिन्हा, रेखा सिन्हा, गोपाल साहू,ओ पी साहू,खिलेंद्र साहू,राजकुमार साहू,जितेंद्र साहू,घनश्याम ध्रुव,वीरेंद्र साहू,वेदराम साहू,रामकिसुन नेताम,हेमलाल सिन्हा, अशोक गजबल्ला, ज़ैनुल अंसारी व जिले के समस्त व्यायाम शिक्षको ने की है

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने