खेत में लगे धान के फसल को नुकसान पहुंचा रहे हाथी, 4 गांव में वन विभाग की टीम तैनात

 


भूपेंद्र साहू

धमतरी।गंगरेल क्षेत्र में तबाही मचाने के बाद चंदा हाथियों का दल कसावाही क्षेत्र में फिर से वापस पहुंच गया है। सोमवार की रात कसावाही  में धान लगे खेत में गुजरने की वजह से फसलों को नुकसान हुआ है। रात में लाइट बंद होने के बाद आसपास के गांव में दहशत का माहौल है।

 चंदा हाथियों का दल अभी भी 10 किलोमीटर के रेंज में घूम रहा है पिछले दिनों गंगरेल गार्डन में जमकर तबाही मचाने के बाद से वहां से खदेड़ा गया तो वे कसावाही क्षेत्र में पहुंच गए हैं। अभी सूचना मिल रही है कि कुछ हाथी अलग अलग होकर आसपास घूम रहे हैं। वन विभाग की टीम चौकसी में लगी हुई है।कसावाही के ग्रामीणों ने बताया कि रात में खेत में हाथियों के गुजरने से धान के फसल को नुकसान हुआ है। कुछ दिनों पहले कसावाही में ही यह दल था। रात में लाइट बंद रहती है इसीलिए डर का माहौल बना रहता है।

 धमतरी रेंजर महादेव कन्नौजे ने बताया कि डीएफओ सतोविशा समाजदार के मार्गदर्शन में आमापानी, विश्रामपुर, कसावाही और मड़वापथरा चार जगह में 10 -10 लोगों की टीम तैनात कर दी गई है। जहां से भी हाथियों का लोकेशन प्राप्त होगा सभी एक जगह पहुंच कर आगे की कार्रवाई करेंगे  अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इनका रुख किस तरफ होगा,फिलहाल धमतरी जिले के बॉर्डर में ही हैं।




0/Post a Comment/Comments

और नया पुराने