बैंक से धोखाधड़ी करने वाला आरोपी गिरफ्तार



 दूसरे के आधार कार्ड में कूटरचना कर लिया था लोन

भूपेंद्र साहू
धमतरी के दो बैंक में दूसरे व्यक्ति के आधार कार्ड को कूट रचित कर फर्जी दस्तावेज के माध्यम से लोन  लेने के मामले में  थाना सिटी कोतवाली पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है।पुलिस ने बताया कि राजेन्द्र सिंह पिता प्रकाश चंद्र  निवासी बिरखडी थाना गोहाद चौक जिला भिंड मध्यप्रदेश,हाल मुकाम राम नगर लोहारा रोड जिला कवर्धा छ.ग.ने अपने फ़ोटो को दूसरे के आधार कार्ड में नाम पता(वैभव मोदी) तथा आधार कार्ड नंबर में कूटरचना कर बैंक से फर्जी तरीके से लोन लेकर धमतरी में धोखाधड़ी कर रहा था।
जिसका पता चलने पर थाना सिटी कोतवाली में धोखाधड़ी,एवं कूटरचना का अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया गया।जांच में पता चला कि आधार कार्ड में वैभव मोदी के नाम से बनाया गया है जो की भोपाल निवासी है और वह पेशे से डॉक्टर है। जिसके नाम से आरोपी राजेन्द्र सिंह के द्वारा वैभव मोदी के आधार कार्ड को फर्जी तरीके से अपना फ़ोटो को कूटरचना कर उसे बैंक में पहचान कार्ड बनाकर वैभव मोदी के नाम से लोन आहरण कर लिया गया था।लोन की राशि नही प्राप्त होने पर बैंक द्वारा वैभव मोदी को जब संपर्क किया गया तो उसके द्वारा कोई लोन नही लिया जाना बताया गया । जांच में राजेंद्र सिंह के द्वारा धमतरी में दो बैंकों में एक वैभव मोदी के नाम से और एक राजेन्द्र सिंह के नाम से एकाउंट खोल कर बैंक से अपना काम चला रहा था। विवेचना के दौरान राजेन्द्र सिंह के विरुद्ध पर्याप्त अपराध सबूत पाए जाने पर उसे धारा 420, 467,468,471भादवि के तहत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में भेजा गया। यहां पर एक बड़ा सवाल यह भी है कि राजेंद्र सिंह और वैभव मोदी दोनों धमतरी निवासी नहीं थे फिर भी उनके नाम से बैंक ने कैसे खाता खोलकर लोन दे दिया।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने