नगरी विकासखंड में 50 अतिथि शिक्षकों की भर्ती पूरी



ग्रामीणों द्वारा लगातार मांग की जा रही थी 

 
फाइल फोटो

धमतरी,  जिले के आदिवासी बाहुल्य नगरी विकासखंड के दूरस्थ क्षेत्रों में शिक्षक विहीन एकल शिक्षकीय शालाओं में 50 अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति पूर्ण कर ली गई है। सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव की  पहल पर, कलेक्टर रजत बंसल के निर्देशानुसार उक्त अतिथि शिक्षकों की भर्ती जिला खनिज न्यास निधि (डीएमएफ) के तहत की गई है।  अनुविभागीय अधिकारी राजस्व नगरी  सुनील कुमार शर्मा ने बताया कि अतिथि शिक्षकों के चयन के लिए विकासखंड स्तर पर 4 सदस्यीय समिति गठित की गई थी जिसमें एसडीएम नगरी, विकासखंड शिक्षा अधिकारी नगरी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत नगरी तथा संकुल स्त्रोत समन्वयक नगरी को शामिल किया गया था। 
 
 
एसडीएम ने बताया कि नगरी ब्लॉक के 50 रिक्त पदों के विरुद्ध कुल 634 आवेदन प्राप्त हुए थे। इनमें 43 प्राथमिक शाला के शिक्षक एवं 03 माध्यमिक शाला के शिक्षक के रिक्त पद सम्मिलित हैं, जिनके लिए विद्यालय से संबंधित ग्राम/ ग्राम पंचायत एवं संकुल स्तर पर आवेदन आमंत्रित किए गए थे। उन्होंने बताया कि प्राथमिक स्तर के अतिथि शिक्षक हेतु न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता कक्षा बारहवीं उत्तीर्ण एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक के लिए स्नातक डिग्रीधारी आवेदकों से आवेदन मंगाए गए थे। अतिथि शिक्षकों का चयन समिति द्वारा प्रावीण्यता सूची के आधार पर की गई है, जिनके चयन के उपरांत सूची शाला प्रबंधन समिति को प्रेषित कर दी गई है। अतिथि शिक्षकों का नियुक्ति आदेश संबंधित विद्यालय की शाला प्रबंधन समिति के द्वारा जारी किया जाएगा। चयनित अतिथि शिक्षकों का कार्यकाल 30 अप्रैल 2020 तक निर्धारित किया गया है। उक्त शिक्षकों का मानदेय जिला प्रशासन द्वारा निर्धारित मापदंड के आधार पर प्रदान किया जाएगा।
 

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने