‘निःशक्त बच्चे असाधारण प्रतिभा के धनी, सामान्य बच्चों की भांति ये भी प्यार के हकदार‘

प्रभारी मंत्री व समाज कल्याण ने वितरित किए कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण

धमतरी। समाज कल्याण विभाग द्वारा आयोजित दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण वितरण कार्यक्रम में आज प्रदेश के आबकारी एवं उद्योग मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा तथा महिला एवं बाल विकास व समाज कल्याण मंत्री  अनिला भेड़िया ने शिरकत की। कार्यक्रम में मंत्रीद्वय ने चिन्हांकित दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग और सहायक उपकरण वितरित किए। इस अवसर केबिनेट मंत्री श्री लखमा ने कहा कि निःशक्त बच्चे भगवान का रूप होते हैं और उन्हें सामान्य बच्चों से किसी भी मामले में कमतर नहीं होते। ऐसे बच्चे असाधारण प्रतिभा के धनी होते हैं तथा अन्य बच्चों की तरह वे भी हमारे प्यार के हकदार होते हैं।

स्थानीय विंध्यवासिनी वार्ड के सामुदायिक भवन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि की आसंदी से जिले के प्रभारी मंत्री श्री लखमा ने आगे कहा कि दिव्यांगजनों की मदद के लिए प्रदेश सरकार कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रही है। बच्चों में निःशक्तता या किसी प्रकार की शारीरिक व मानसिक कमी न रह जाए, इसके लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के द्वारा सुपोषण अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इसके तहत आंगनबाड़ी केन्द्रों में कुपोषित बच्चों और गर्भवती, शिशुवती महिलाओं को भोजन में सोयाबीन की बड़ी, पौष्टिक फल तथा अण्डे निःशुल्क वितरित किए जा रहे हैं, जिसके सकारात्मक परिणाम प्रदेश भर में परिलक्षित हो रहे हैं। मंत्री श्री लखमा ने सहायक उपकरण से निःशक्तजनों का जीवन आसान होने की बात कहते हुए हितग्राहियों अपनी शुभकामनाएं दीं। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहीं समाज कल्याण मंत्री श्रीमती भेड़िया ने जनसमुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि निःशक्तजन कभी स्वयं को कमजोर न समझें, अपितु अपनी कमजोरियों को हथियार बनाकर जीवन में आगे बढ़ें। उन्होंने बताया कि निःशक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत पूर्व में मिलने वाली प्रोत्साहन राशि को सरकार द्वारा दुगनी कर दी गई है। योजनांतर्गत हितग्राहियों को अब 50 हजार रूपए प्रदान किए जा रहे हैं। दिव्यांगजनों को मजबूत बनाने की दिशा में समाज के सभी वर्ग के लोगों को आगे आने का आव्हान करते हुए केबिनेट मंत्री ने उनकी दशा और दिशा में अनुकूल परिवर्तन लाने की बात कही।

उप संचालक समाज कल्याण ने बताया कि कार्यक्रम में चिन्हांकित दिव्यांगजनों को कुल 461 कृत्रिम अंग एवं उपकरण वितरित किए गए। इनमें 24 नग ट्रायसिकल, 16 व्हीलचेयर, 13 सी.पी. चेयर, 38 बैशाखी, 11 वाॅकिंग स्टीक, 198 श्रवण यंत्र, 2-2 ब्रेल केन फोल्डिंग, ब्रेल स्लेट, ब्रेल किट निःशुल्क बांटे गए। इसके अलावा 10 स्मार्ट फोन, 15 स्मार्ट केन, 04 डेजी प्लेयर, 09 रोलेटर, 45 एमएसआईडी किट, 12 मोटराइज्ड ट्रायसिकल तथा 60 प्रोस्थेसिस एवं कैलिपर्स वितरित किए गए। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष  रघुनंदन साहू, सदस्य कविता बाबर एवं  नीशु चंद्राकर, जनपद पंचायत  अध्यक्ष  प्रियंका सिन्हा, धमतरी के पूर्व विधायक हर्षद मेहता के अलावा मोहन लालवानी सहित अपर कलेक्टर  दिलीप अग्रवाल, समाज कल्याण विभाग के संचालक पंकज वर्मा सहित काफी संख्या मंे दिव्यांगजन और उनके परिजन व नागरिकगण उपस्थित थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने