मूक बधिर विद्यालय में अब तक का रहा सर्वश्रेष्ठ परिणाम



धमतरी।मूक बधिर विद्यालय में अब तक का सर्वश्रेष्ठ परिणाम कक्षा दसवीं का  रहा ।जिसमें 60 फ़ीसदी बच्चे पास हुए हैं। इससे अन्य बच्चों का उत्साहवर्धन हुआ है ।अब तक वहां काफी कम बच्चों को सफलता मिलती थी लेकिन इस बार सामूहिक प्रयास से अच्छी सफलता प्राप्त हुई है।

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा  दिव्यांग मूक बधिर बच्चियों के शिक्षा हेतु शिक्षा के लिए जिला मुख्यालय पर 2005 से शासकीय मूर्ख बघेल विद्यालय शासकीय श्रवण बाधित बालिका विद्यालय संचालित किया जा रहा है जिसमें विभिन्न कक्षाओं की छात्राएं अध्यनरत है ।इस बार कक्षा दसवीं में अट्ठारह बच्चियां शामिल हुई थी जिसमें से 60 फीसदी बच्चे पास हुए हैं ।ममता देशमुख ने कक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त किया है । इस संबंध में विद्यालय की प्राचार्य वैशाली मरवडकर ने बताया कि यह अब तक का सर्वश्रेष्ठ परिणाम रहा है ।विद्यालय में कुल 96 बच्चे अध्ययनरत हैं। ।यह बच्चे सामान्य बच्चों के साथ ही अन्य सेंटर में परीक्षा के लिए बैठते हैं ।उनके पास समझाने के लिए एक टीचर सेंटर में उपलब्ध होती हैं।अगली बार प्रयास रहेगा कि स्कूल में सेंटर हो जिससे बच्चों को प्रश्न उत्तर समझने में आसानी होगी । बच्चों की सफलता के लिए उप संचालक एमएल पाल सहित शिक्षक बसंत साहू ,दुर्गा यादव,सुचेता लोंढे,अनुराधा गुरुपंचायन,मिथलेश चोपड़ा,निकिता तिवारी  का भरपूर योगदान रहा है
पिछले समय में उपरोक्त विद्यालय प्राइवेट में बिल्डिंग में संचालित किया जा रहा था नवीन परिसर का उद्घाटन माननीय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया था


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने