जन चौपाल-भेंट मुलाकात कार्यक्रम : मुख्यमंत्री ने आम नागरिकों की समस्याओं के निराकरण के दिए निर्देश




रायपुर :

मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल से आज जन चौपाल भेंट मुलाकात कार्यक्रम में अपनी समस्या लेकर आए हजारों लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं सुनी और अधिकारियों को निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने जरूरतमंदों को स्वेच्छानुदान मद से राशि स्वीकृति दी। विधायक बिलाईगढ़ श्री चंद्रदेव राय के नेतृत्व में आए बलौदाबाजार के प्रतिनिधि मंडल के आग्रह पर उन्होंने भटगांव को तहसील बनाने की घोषणा की। उन्होंने रेडियेंट-वे स्कूल रायपुर की घटना को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर रायपुर को जांच करने के लिए निर्देशित किया। इस अवसर पर रायपुर पश्चिम के विधायक श्री विकास उपाध्याय और भिलाई के विधायक और महापौर  देवेन्द्र यादव ने रायपुर के नजदीक माता कौशिल्या मंदिर के सुसज्जित करने और इसके बेहतर विकास के लिए 1.10-1.10 लाख रूपए की राशि का चेक मुख्यमंत्री को सौंपा। उन्होंने जन चौपाल में कार्यक्रम के दौरान जंगल सफारी देखने के लिये कोपलवाणी संस्था के बच्चों की बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 


मुख्यमंत्री से पद्मधरमपाल सैनी के नेतृत्व में जगदलपुर के डिमरापाल आश्रमों के बच्चों ने सौजन्य मुलाकात की। इन बच्चों ने मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री श्री बघेल से उनका निवास घूमने की इच्छा प्रकट की। श्री बघेल ने बच्चों की इस बालसुलभ इच्छा को तुरंत ही पूरी की। मुख्यमंत्री के निर्देश पर सभी बच्चों को हरे-भरे परिवेश में स्थित मुख्यमंत्री निवास को अंदर से पूरा घुमाया गया। इन बच्चों ने बड़ी ही उत्सुकता के साथ मुख्यमंत्री निवास में स्थित गौशाला, बाड़ी, डिस्पेंसरी, कैबनेट कक्ष और कार्यालय आदि को देखा। बालिका बसंती कवासी ने कहा कि गांव के घरों की तरह ही मुख्यमंत्री निवास में भी बाड़ी देखने को मिली। गांव के घरों की तरह ही यहां गौशाला है। पहली बार रायपुर आयी बालिका वनिता कश्यप ने कहा कि मुख्यमंत्री जी से मिलकर और उनका घर देखकर बहुत ही अच्छा लगा। मुख्यमंत्री ने इसके पहले बड़ी ही आत्मीयता और अपनत्व के साथ श्री धर्मपाल सैनी और बच्चों से मुलाकात की। 

खिलेश्वरी का खिला चेहरा

    जन-चौपाल भेंट मुलाकात कार्यक्रम में पहंुची श्रीमती खिलेश्वरी देवांगन को अपनी समस्या का उचित और तुरंत निराकरण मिला। अपनी समस्या का निदान पाकर उनका मुरझाया चेहरा खुशी से खिल उठा। दुर्ग जिले के भिलाई-3 शांति नगर निवासी श्रीमती देवांगन ने बताया कि विगत चार वर्षो से हृदय संबंधी रोग की समस्या के कारण काफी परेशानी झेलनी पड़ रही थी। आज मुख्यमंत्री श्री बघेल से मिलकर अपनी व्यथा को बताने पर मुझे मुख्यमंत्री संजीवनी राहत कोष के अंतर्गत रायपुर स्थित मेकाहारा अस्पताल में निःशुल्क इलाज की सुविधा प्रदान की गई। इससे मेरी बहुत बड़ी समस्या दूर हो गई और मुझे जनचौपाल में आने से काफी राहत मिली।


मुख्यमंत्री ने दिव्यांग शशि कुमारी उइके के घर की मरम्मत कराने के दिए निर्देश

    मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने जनचौपाल में दिव्यांग शशि कुमारी उइके के मकान में छत ढ़लाई कराने के निर्देश कलेक्टर रायपुर को दिए। रायपुर जिले के ग्राम कठीया निवासी दिव्यांग शशी कुमार उइके ने मुख्यमंत्री को अपने मोबाइल फोन पर जर्जर मकान का फोटो दिखाकर उस पर ढ़लाई कराने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने रायपुर कलेक्टर को दिव्यांग सुश्री उइके का आवेदन देकर उनके मकान में छत ढ़लाई कराने के निर्देश दिए। दिव्यांग सुश्री उइके ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके स्वर्गीय पिता श्री दुबराज सिंह के नाम पर शासन द्वारा इंदिरा आवास योजना के तहत तीन कमरें का पक्का मकान मिला है किन्तु उस मकान में लेंटर अभी तक नहीं हुआ है। आज से 9 वर्ष पूर्व पिता की मृत्यु हो चुकी है और मकान अभी तक जर्जर स्थिति में खड़ा हुआ है। बरसात के दिनों में दीवार र्की इंट धुलने से खण्डहर सा हो गया है। मुख्यमंत्री ने दिव्यांग उइके से बड़ी आत्मीयता से बातचीत की और छत ढ़लाई कराने के निर्देश कलेक्टर को दिए।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने