स्टेक में कितने कट्टे, नहीं बता पाए प्रबंधक, होगी कार्रवाई गाड़ाडीह की समिति को भंग करने के दिए निर्देश

नोडल अधिकारी, कुरूद एसडीएम तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं संबंधित पटवारी को कारण बताओ नोटिस



धमतरी।जिले की प्रभारी सचिव  संगीता पी. ने कुरूद विकासखण्ड के धान खरीदी केन्द्र गाड़ाडीह और बगौद (भाठागांव) का आकस्मिक निरीक्षण कर समिति में रखे गए धान, बारदानों व स्टेकिंग का भौतिक सत्यापन किया। इस दौरान गाड़ाडीह समिति के प्रबंधक से स्टेक में रखे गए कट्टों का मिलान कर संख्या बताने कहा, जिस पर प्रबंधक माकूल जवाब नहीं मिला। इसी तरह खाली बारदानों की गिनती कराने पर 25 बारदाने कम मिले। इस पर कलेक्टर  रजत बंसल ने नाराजगी जाहिर करते हुए समिति प्रबंधक के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने एवं गाड़ाडीह सहकारी समिति को भंग करने के निर्देश दिए। इसके अलावा उक्त समिति के लिए नियुक्त किए गए नोडल अधिकारी, एसडीएम कुरूद सहित कुरूद तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं संबंधित पटवारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश कलेक्टर ने मौके पर दिए।


प्रदेश के आवास एवं पर्यावरण विभाग की विशेष सचिव, आयुक्त जीएसटी तथा जिले की प्रभारी सचिव संगीता पी. ने आज अपराह्न जिले के धान खरीदी केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण किया। वे सबसे पहले कुरूद के ग्राम गाड़ाडीह की सहकारी समिति (पंजीयन क्रमांक-755) में स्थित धान खरीदी केन्द्र पहुंचीं, जहां पर धान की गुणवत्ता, आर्द्रता का परीक्षण कराया तथा समिति में धान बेचने आए किसानों से चर्चा की। इसके अलावा उन्होंने स्टाॅक पंजी, आवक-जावक रजिस्टर, धान का परिवहन एवं मौजूदा भण्डारण, धान व बारदानों की उपलब्धता, आॅनलाइन डाटा एण्ट्री आदि का मिलान किया। इसके बाद विभिन्न वेरायटी के धान के कट्टों की छल्ली (स्टेक) का निरीक्षण किया। इस दौरान स्टेक में धान के कट्टों की संख्या का पंक्तिवार उल्लेख नहीं किया जाना पाया गया, साथ ही समिति के प्रबंधक  रमेश कुमार देवांगन के द्वारा स्टेक में रखे गए कट्टों की संख्या का मिलान संधारित पंजी के आधार पर किया गया, जिस पर वे पंजी में दर्ज संख्या के अनुसार कट्टों की गणना नहीं कर पाए। इस पर कलेक्टर ने समिति प्रबंधक के विरूद्ध निलंबन की कार्रवाई करने विभागीय कार्रवाई करने के निर्देश उप पंजीयक को दिए। साथ ही उन्होंने उक्त समिति में धान खरीदी कार्य को गम्भीरता से नहीं लेने पर गाड़ाडीह सहकारी समिति के नोडल अधिकारी  एस.के. पैकरा उप अभियंता पी.एच.ई., एसडीएम कुरूद, सहित तहसीलदार कुरूद, नायब तहसीलदार एवं संबंधित पटवारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। साथ ही बैंक के शाखा प्रबंधक  टिकेन्द्र बैस को भी कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।
इसके पश्चात् प्रभारी सचिव एवं कलेक्टर सहकारी समिति बगौद (भाठागांव) पहुंचे, यहां पर भी विभिन्न पंजियों की रैण्डम जांच कर धान की क्वालिटी, आर्द्रतामापी यंत्र से नमी का प्रतिशत तथा स्टेक में रखे गए कट्टों का भौतिक सत्यापन कराया तथा समिति के प्रबंधक को स्टाॅक पंजी और स्टेक में रखे गए धान के कट्टों का सही-सही आंकड़ा व संख्या रखने व सभी पंजियों का प्रतिदिन अद्यतीकरण करने के निर्देश दिए। इसके अलावा प्रत्येक बारदानों में स्टेनसील मार्का लगाने तथा शासन के निर्देशानुसार प्रत्येक स्टेक में रखे गए कट्टों की संख्या का प्रदर्शन करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने गोदाम में बेतरतीब ढंग से रखे गए खाली बारदानों पर असंतोष जाहिर करते हुए व्यवस्थित ढंग से रखने के लिए निर्देशित किया। साथ ही कलेक्टर को जिले की समितियों की रैण्डम जांच करने के भी निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला पंचायत की सी.ई.ओ. श्रीमती नम्रता गांधी, खाद्य अधिकारी श्री बी.के. कोरम, उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं  किरण गुप्ता, नोडल अधिकारी प्रहलाद पूरी गोस्वामी, डी.आई.ओ.  उपेन्द्र चंदेल सहित संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने