तेंदुआ का खौफ : हिंसक वन्यजीव के हमले से बचाव के लिये वन विभाग ने तय की अपनी रणनीति

 

लोगों से सावधान रहने की अपील की गई

फाइल फोटो
नगरी । नगरी इलाके के कई गांव में तेंदुए ने दस्तक देकर ग्रामीणों की नींद उड़ा दी है। आए दिन किसी ना किसी गांव में घुसकर मवेशियों एवं पालतू जानवर का शिकार किया है। यहां तक कि बच्चों को भी निशाना बनाया है। इन सभी हालातों से निपटने एवं वन्य प्राणियों से लोगों की सुरक्षा के लिए वन विभाग ने कुछ स्पेशल रणनीति तैयार की है, जिसमें रात्रिकालीन गश्त, कंट्रोल रूम, गांव में मुनादी एवं लोगो से अपील शामिल है।
 वन विभाग के मुताबिक धमतरी जिला वनक्षेत्र होने के साथ-साथ वन्य प्राणी बाहुल्य जिला है। जिले में तेदुआ,भालू एवं अन्य वन्य प्राणी बहुतायत में पाए जाते हैं। लॉक डाउन से न केवल मनुष्य,  वन्यजीव भी प्रभावित हो रहे हैं। इंसानों की गतिविधियां थमने से वन क्षेत्रों का माहौल शांत है। ऐसे में वन्य प्राणी भी स्वच्छंद विचरण कर रहे हैं, ऐसी स्तिथि में हिंसक पशु नगर, गांव व कस्बे तक पहुंच रहे हैं, इससे वन्यप्राणी मानव द्वंद से क्षति होना भी पाया जा रहा है। 

एसडीओ जयदीप झा व वन परिक्षेत्र अधिकारी नगरी जीएस. परमार ने बताया गया कि नगरी सहित आसपास के इलाके रतावा, रानीगांव, उमरगांव, सेमरा व देवपुर में तेदुआ, भालू एवं हिंसक प्राणियों की आवाजाही एवं वन्य क्षेत्रों में अग्नि दुर्घटना की लगातार आ रही शिकायतों को देखते हुए उपवनमंडल क्षेत्रों में रात्रि गश्ती दल गठित किया गया है और मुनादी कराई जा रही है। विभाग ने लोगों से जंगल ना जाने की सलाह दी है। यदि अत्यंत आवश्यक हो तो दिन में ही जंगल जाए, अकेले जंगल ना जाए एवं जंगल में भी स्पेशल डिस्टेंस का पालन करें। वृद्ध और बच्चे जंगल ना पहुचे एवं खास करके छोटे बच्चों का विशेष ध्यान रखा जाए। अपनी बाड़ी पर भी शाम के समय अकेले ना घूमे। वन्यप्राणियों से संबंधित कोई घटना होती हो या फिर किसी क्षेत्र में वन्य प्राणियों का आवागमन होता हो या रहवास होता है तो तुरंत विभाग को सूचित करें।
रात्रि गश्त के में इन अधिकारी व कर्मचारी की रहेगी ड्यूटी-
 उपवन मंडल नगरी रात्रि गश्त के लिए वन परिक्षेत्र अधिकारी जी एस परमार को दल प्रमुख बनाया गया है वही परिक्षेत्र अधिकारी सांकरा एलके सोम, रूपसिंह ध्रुव नगरी उत्पादन, पस.नगरी गोपाल वर्मा, डोंगरडूला बिंदु लाल साहू तुमबाहारा इतवारी राम नेताम, वर.चुरियारा कश्यप कुमार बाक, राजाराम साहू, राजू भारती सांकरा, मुजिद खान को भी दायित्व दिया गया है।
कंट्रोल रूम की स्थापना-
वन विभाग ने धमतरी वनमंडल एवं सीतानदी टाइगर रिजर्व में कंट्रोल रूम स्थापित किया है जिसमे वनमंडलाधिकारी धमतरी 7587011500 के अलावा उप वनमंडलाधिकारी बिरगुड़ी 9425507319, नगरी 9425236881, सहायक संचालक सीतानदी 7879348860, परिक्षेत्र अधिकारी बिरगुड़ी 9131014099, नगरी 7587011509 में भी संपर्क कर सूचना दी जा सकती है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने