छिंदिटोला से कल्लेमेटा पंहुचा तेंदुआ, घर में घुस कर बकरी का किया शिकार, ग्रामीणों में दहशत

 वन विभाग ने पंचनामा कर शव को जलाया 

विनोद गुप्ता 
नगरी।शुक्रवार को तेंदुआ छिंदिटोला से लगभग 22 किमी दूर कल्लेमेटा पहुंच गया जिससे लोगों में दहशत है ।ब्लॉक मुख्यालय से करीब 11 किमी.दूर ग्राम पंचायत कल्लेमेटा के रहवासी महेंद्र यादव पिता रमेलाल के कोठार से तेंदुए ने बकरी का शिकार कर बकरी की इहलीला समाप्त कर दी है। घर वालो का कहना है कि रात्रि लगभग 12 से 1 बजे के करीब कोठार के अंदर से तेदुएं ने बकरी को तकरीबन 20 मीटर के आसपास बाड़ी में घसीटते ले जाकर मार दिया है।  बकरी अभी गर्भवती भी थी। इसी गांव में 15 दिन पहले भी तेंदुए ने रात 8 बजे के लगभग चंद्रहास दुबे की बछिया को अपना शिकार बना लिया था। ग्रामवासी महावीर गुप्ता ने बताया कि दुबे जी के यहां की बछिया को छुड़ाने की कोशिश की गई लेकिन उसे भी तेदुएं ने मार डाला था।
नाख़ून के निशान
उल्लेखनीय है कि नगरी ब्लॉक् में तेंदुए का आतंक कम होने का नाम नही ले रहा है। आये दिन विंख नगरी के किसी न किसी गांव में तेंदुआ पालतू जानवर का शिकार कर रहा है। कुछ दिनों पहले जिस क्षेत्र में तेदुआ ने बच्चे पर हमला किया उसी क्षेत्र के छिंदिटोला में दिनदहाड़े गुरुवार को दहशत फैलाया है। रोज की इस घटनाक्रम से लॉक डाउन में मानो तेदुए द्वारा किये गए हमलों की लोगो को आदत सी पड़ गयी है। रोज एक नया समाचार सुनने व देखने को मिल रहा है। कब कँहा तेंदुए ने हमला कर दिया लोगो के लिए जिज्ञासा का विषय बन गया है। गांव के रहवासियों में तेदुआ कौतूहल के  विषयों में सुमार है। फोन पर भी इसके हमले की जानकारी लोग लेने लगे है कि आज भी कही तेंदुए वाली घटना घटी है क्या। 
सहायक परिक्षेत्र अधिकारी गोपाल प्रसाद वर्मा ने बताया है कि एसडीओ जयदीप झा एवं रेंजर जीएस परमार के मार्गदर्शन में गांव के पंचों के बीच बकरी के शव का पंचनामा किया गया है। प्रकरण तैयार कर बकरी के शव को उन्ही की बाड़ी में जला दिया गया।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने