विशेष पिछड़ी जनजाति कमार के मांग आधारित कार्यों पर फोकस,25 हजार मनरेगा श्रमिकों को नियोजित करने कलेक्टर ने दिए निर्देश


मगरलोड क्षेत्र का दौरा 

 

धमतरी, 24 अप्रैल।   कलेक्टर  रजत बंसल ने आज मगरलोड विकासखण्ड का दौरा कर ब्लाॅक स्तर पर निर्माण कार्यों एवं विभागीय गतिविधियों की समीक्षा की। उन्होंने जनपद पंचायत मगरलोड में बैठक लेकर महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारण्टी योजना के तहत प्रतिदिन 25 हजार श्रमिकों को नियोजित कर रोजगार सृजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने विशेष पिछड़ी जनजाति कमार बाहुल्य वाले ग्रामों में उनकी मांग के आधार पर नवीन कार्यों का प्राक्कलन तैयार करने सहित मनरेगा के माध्यम से नवीन कार्य स्वीकृत करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। साथ ही नवीन गौठान की स्वीकृति, वृक्षारोपण सहित विभिन्न निर्माण कार्यों एवं गतिविधियों की जानकारी ली।

जनपद पंचायत मगरलोड के सभाकक्ष में आज दोपहर को आयोजित बैठक में कलेक्टर को बताया गया कि ग्रामवार प्रति परिवार कार्य खोले जाएंगे, जिसके लिए अधिक से अधिक श्रममूलक कार्य स्वीकृत किए जाएंगे। इसी तरह हितग्राहियांे का डबरी निर्माण, भूमि सुधार, कुंआ, मत्स्य पालन के निजी तालाब का प्राक्कलन तैयार कर जिला पंचायत को प्रेषित करने के निर्देश दिए। बैठक में कलेक्टर ने विशेष तौर पर निर्देशित किया कि विशेष पिछड़ी जनजाति वाले ग्राम धनबुड़ा, सरगी, पठार, राजपुर और खड़मा के कमार परिवारों को रोजगार के साथ-साथ उनके पारम्परिक आजीविका के साधनों को कौशल से जोड़ा जाए। इसके लिए उनसे मांग आमंत्रित करने तथा उस पर विचार मंथन कर कार्ययोजना तैयार कर सोमवार तक प्रेषित करने के निर्देश उन्होंने दिए। इसके लिए वन अधिकार मान्यता पत्र के अंतर्गत प्राप्त भूखण्डों को भी उपयोग में लाते हुए डबरी निर्माण, भूमि सुधार, कूप खनन आदि कार्य मनरेगा से कराए जाने के लिए निर्देशित किया। बैठक में वन मण्डलाधिकारी श्री अमिताभ बाजपेयी ने बताया कि मगरलोड विकासखण्ड के 100 एकड़ क्षेत्र में पौधरोपण का लक्ष्य तैयार किया गया है जिसके लिए उद्यानिकी विभाग से समन्वय स्थापित कर कार्ययोजना तैयार की जा रही है। विशेष तौर पर नदी के किनारों में पौधरोपण लक्षित किए जाने की जानकारी बैठक में दी गई।

कलेक्टर ने सभी तकनीकी सहायकांे को क्लस्टर आधारित मीटिंग में अपने रोजगार सहायकों को कोविड-19 के संबंध में दिए गए निर्देशों के अनुसार ही सतर्कता का ध्यान रखते हुए मनरेगा कार्य करवाने की बात कही तथा मनरेगा मजदूरों के लिए 40 हजार मास्क का निर्माण महिला स्वसहायता समूहों से कराए जाने के लिए निर्देशित किया। बैठक में जिला पंचायत की सी.ई.ओ.  नम्रता गांधी ने मगरलोड ब्लाॅक में स्वीकृत नवीन गौठान, गौठान में पैरा संग्रहण एवं वर्मी खाद विक्रय में कृषि विभाग के सहयोग से प्लानिंग के बारे में बताया। इसके अलावा मनरेगा के तहत चल रहे निर्माण कार्यों तथा नवीन प्रस्तावों की जानकारी बैठक में दी। साथ ही कलेक्टर ने धान बीज उठाव के लिए कृषि एवं संबंधित विभाग का कैम्प प्रमुख ग्रामों में लगाने के निर्देश दिए। इसके पश्चात् कलेक्टर ने ग्राम पंचायत खड़मा के आश्रित ग्राम गिरोलाडीह का दौरा किया जहां पर चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया, जहां पर बाड़ी, गौठान और पशुशेड निर्माण कार्यों का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों से चर्चा की तथा उनसे आवेदन भी प्राप्त किया।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने