लॉक डाउन से बढ़ी खाद्य सामग्रियों की कीमतें ,मौके का फायदा उठा रहे व्यापारी, उपभोक्ता हलाकान



ज्यादातर शिकायतें ग्रामीण क्षेत्रों में 


पवन कुमार निषाद
मगरलोड (धमतरी)।। इस समय पूरे विश्व मे कोरोना वायरस के चलते फैली महामारी की रोकथाम के लिए एक ओर जहां केन्द्र और राज्य सरकार कई कदम उठा रही है।  सरकार ने पूरे देश मे लॉक डाउन किया गया है।इस दौरान राशन एवं खाद्य जैसे आवश्यक सामग्रियों को लोगो की सुविधा के लिए दी जा छूट का फायदा व्यापारी उठा रहे है।खाद्य सामग्रियों की कालाबाजारी से आवश्यक वस्तुओं का दाम आसमान छू रहा है।जिससे उपभोक्ता अधिक दाम पर सामान खरीदने में मजबूर है ।दुकानदारों के हौसलें बुलंद हो रहे है।ज्ञात हो कि धमतरी जिले के तहत मगरलोड नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में 25 मार्च से लॉक डाउन है। जिसके कारण दुकानें बंद है ।सिर्फ जीवन उपयोगी सामानों की दुकानें ही कुछ घंटे खुल रही है। खरीददारों की भीड़ उमड़ रही है।
 
मांग और पूर्ति में आये अंतर का फायदा कुछ व्यापारी उठा रहे है।ज्यादातर शिकायतें ग्रामीण क्षेत्रों से मिल रही है। काम बंद होने से पहले ही आर्थिक तंगी झेल रहा गरीब   लोगों को मंहगा सामान खरीदने को विवश है। चावल दाल ,तेल, आलू  -प्याज,मसाले आदि के दाम अचानक बढ़ गये है। पांच में बिकने वाला गुड़ाखू 12 में तो 15 रुपये में बिकने वाला बीड़ी 25 में ,गुटखा 5 से  10रुपये , आलू 30 का 50 रुपये में बिक रहा है।लोगों की शिकायत की अनदेखी से जनता में नाराजगी बढ़ रही है।जबकि कलेक्टर रजत बंसल ने स्पष्ट निर्देश दिये है कि कही भी कालाबाजारी न हो ।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने