जिले के चारों विकासखण्ड में बनाए गए 398 क्वारेटाईन सेंटर


क्वारेटाईन सेंटरों के निरीक्षण के लिए 65 जोन अधिकारी नियुक्त


धमतरी, 16 मई 2020।आगामी कुछ दिनों में अन्य राज्यों से व्यक्तियों एवं श्रमिकों के जिले में वापस आने की संभावना है। ऐसी परिस्थिति में कोरोना वायरस से बचाव के लिए सक्रिय निगरानी कर त्वरित पहचान एवं उपचार किए जाने के साथ ही 14 दिनों तक ग्राम पंचायतों के शासकीय भवनों में क्वारेटाईन किया जाना है। इस अवधि में व्यक्तियों/श्रमिकों के स्वास्थ्य परीक्षण, भोजन, पेयजल इत्यादि की व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने एवं उनके सतत निगरानी के लिए जिले में विकासखण्ड स्तरीय ग्राम पंचायतवार 398 क्वारेटाईन सेंटर बनाए गए हैं। इनमें धमतरी विकासखण्ड में 97, कुरूद विकासखण्ड में 126, मगरलोड विकासखण्ड में 66 और नगरी विकासखण्ड में 109 क्वारेटाईन सेंटर शामिल हैं। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री रजत बंसल ने इन क्वारेटाईन सेंटरों का निरीक्षण करने 65 जोन अधिकारी नियुक्त किया है। इनमें धमतरी विकासखण्ड में 12, कुरूद विकासखण्ड में 26, मगरलोड विकासखण्ड में 13 और नगरी विकासखण्ड में 14 जोन अधिकारी शामिल हैं।                   


जिला दण्डाधिकारी  रजत बंसल ने अधिकारियों को सौंपी जिम्मेदारी
 रोजगार की तलाश में अन्य राज्यों में गए व्यक्तियों एवं श्रमिकों के वापस अपने निवास जिले में आने की संभावना है। इसके मद्देनजर कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी रजत बंसल ने अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्ति/श्रमिक तथा उनके आने की संभावना संबंधी जानकारी संकलित कर उपलब्ध कराने के लिए ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों में अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी है। कलेक्टोरेट से मिली जानकारी के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्र/ग्राम पंचायत की जानकारी संबंधित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा दो अलग-अलग निर्धारित प्रारूप में प्रतिदिन संलग्न कर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के जरिए जिला दण्डाधिकारी को उपलब्ध कराया जाएगा। इसी तरह शहरी क्षेत्र में आयुक्त, नगरपालिक निगम धमतरी एवं नगरपंचायतों के मुख्य नगरपालिका अधिकारी द्वारा जानकारी संकलित कर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के जरिए जिला दण्डाधिकारी को उपलब्ध कराया जाएगा। 

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने