VDO: लोगों तक मौत का सामान पहुंचाने वाले अवैध गुटखा की फैक्ट्री पर छापा



संयुक्त टीम ने की कार्रवाई, फैक्ट्री संचालक फरार 


भूपेंद्र साहू 
धमतरी।धमतरी में शनिवार को एक बड़ी कार्यवाही हुई है ।औद्योगिक वार्ड के शिव राइस मिल परिसर में किराए में गोदाम लेकर लोगों तक मौत का सामान पहुंचाने वाला अवैध गुटखा का कारोबार उजागर हुआ है ।संयुक्त जांच टीम ने दबिश देकर अवैध फैक्ट्री में रखे लाखों के रा मटेरियल, गुटखा बनाने की मशीन को जप्त कर लिया है ।कारोबारी प्रहलाद मूलवानी फरार है ।
 
सरकार लगातार गुटखा पर प्रतिबंध की बात कहती है उतनी ही इसकी बिक्री बढ़ते जा रही है। क्योंकि अवैध कारोबारियों की फैक्ट्रियां जगह-जगह संचालित है। ऐसे ही धमतरी में भी संचालित फैक्ट्री पर दबिश देकर बड़ा मामला उजागर किया गया है। शनिवार 16 मई को शिव राइस मिल परिसर में संयुक्त जांच टीम ने दबिश दी जहां दो गोदामों में रखे लाखों के रा मटेरियल गुटका मशीन को जप्त किया गया है। इस गोदाम को मिल मालिक द्वारा 5000रु प्रति माह के दर पर प्रहलाद मलवाली को किराए पर दिया गया था ।

कैसे हुआ खुलासा अधिकारी के जुबानी 

खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग की अभिहित अधिकारी मीनाक्षी वैष्णव ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 13 मई को एसडीएम मनीष मिश्रा को जानकारी मिली कि औद्योगिक वार्ड के शिव राइस मिल परिसर के गोदाम में गुटखा का कारोबार हो रहा है। तत्काल संयुक्त जांच टीम का गठन किया गया और 13 मई को ही गोदाम पहुंचे जहां ताला बंद था ।मालिक से संपर्क करने पर बताया गया कि उन्होंने इसे प्रहलाद मूलवानी को किराए पर दिया हुआ है ।
                                                                             गोदाम नम्बर 1 
प्रहलाद मूलवानी को गोदाम खोलने कहा गया लेकिन वह उपस्थित नहीं हुए।दोनों गोदाम के सामने नोटिस चस्पा कर दिया गया और उपस्थित होने कहा गया लेकिन उपस्थित नहीं होने पर असुरक्षित अवमानक खाद्य पदार्थ गुटखा गुड़ाखू होने की आशंका के आधार पर विधिवत सील किया गया ।मीनाक्षी वैष्णव ने बताया कि 16 मई को जांच टीम पुनः मिल परिसर पहुंची और गवाहों के समक्ष दोनों गोदामों का ताला तोड़ा गया जहां अवैध रूप से रखे गुटखा बनाने का मटेरियल और गुटखा बनाने की मशीन मिली। प्रथम दृष्टया में लाखों का माल है। 
                                                                     गोदाम नम्बर 2
कारोबार बिना लाइसेंस के चल रहा था ।प्रहलाद मूलवानी अभी फरार है, पहले भी उनका ऐसे ही अवैध कारोबार कर रहा है ।सेंपल लेने के बाद इसे राज्य परीक्षण प्रयोगशाला कालीबाड़ी रायपुर भेजा जाएगा। रिपोर्ट आने के बाद सीजेएम न्यायालय में पेश कर आगे की कार्रवाई की जाएगी ।

मालिक को नहीं लगी कानो कान खबर

 शिव राइस मिल के शरद गोयल ने बताया कि राइस मिल में दो खाली गोदाम थे जिसे सिहावा चौक निवासी प्रहलाद मूलवानी को मार्च माह में 11 महीने के लिए 5000रु प्रतिमाह किराए पर दिया गया था ।शरद ने बताया कि उन्हें इस अवैध कारोबार की कानों कान खबर तक नहीं लगी। दिन में गोदाम में रखे मशीन नहीं चलाए जाते थे। कोई भी माल जब आता था तो वह पूरा पैक होता था ।जब भी गोदाम आते थे तो दरवाजा अंदर से बंद रहता था। प्रह्लाद ने इसे किराने का सामान रखने के लिए लिया था। चूंकि किराएदार ने उनके साथ धोखा किया है इसलिए वह भी अपराध दर्ज कराएंगे ।

ज्ञात हो कि धमतरी अवैध गुटखा का निर्माण करने एवं डुप्लीकेट माल की पैकिंग कर नामी ब्रांड से ऊंचे दाम पर गुटखा बेचने का अवैध कार्य लंबे समय से चला आ रहा है ।प्रह्लाद मुलवानी पर पूर्व में भी ऐसे ही मामलों में कार्रवाई की जा चुकी है। यह कुछ माह के अंतराल में नया नया ठिकाना देखकर उस जगह अवैध गुटका का कारोबार करता है ।इस जांच टीम में मीनाक्षी वैष्णव के साथ नायब तहसीलदार चंद्र प्रकाश साहू ,खाद्य सुरक्षा अधिकारी अक्षय कुमार सोनी, खाद्य निरीक्षक नरेश पिपरे, थाना सिटी कोतवाली प्रभारी भावेश गौतम, नमूना सहायक गिरिजा शंकर वर्मा शामिल थे।
 

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने