ग्राउंड रिपोर्ट :मारागांव का तटबंध चढ़ गया भ्रष्टाचार की भेंट,एक साल में ही धंसने लगा



ग्रामीण इसकी शिकायत सीएम,कृषि मंत्री एवं मुख्य सचिव से करने की तैयारी में 


पवन कुमार निषाद
मगरलोड (धमतरी) ।मगरलोड ब्लाक के  ग्राम मारागांव में करोड़ो रूपये की लागत से जल संसाधन विभाग की ओर से तटबंध बनाया जा रहा जो भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया  है।निर्माण कार्य अभी पूरा भी नही हुआ हैकि अभी से ही तटबंध जगह जगह से धंस गया है। तटबंध का हाल देखकर ही उसकी गुणवत्ता का अंदाजा लगाया जा सकता है कि निर्माण में कितनी घोर लापरवाही बरती गई ।मारागांव के सरपंच प्रतिनिधि चुन्नी लाल कांशी , पुरषोत्तम मरकाम, पूर्व सरपंच रघुवीर पटेल, पंच राम मरकाम पंच,राजेन्द्र ध्रुव,घनश्याम ध्रुव   ने विभाग और ठेकेदार पर गुणवत्ताहीन निर्माण कर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगा रहे है।
मारागांव के किसानो के बताया कि हर साल पैरी नदी में पानी का तेज बहाव होने और बाढ़ से उनकी फसल बर्बाद हो रही थी साथ ही मिट्टी का कटाव भी तेजी से हो रहा था.जिसके चलते शासन प्रशासन से तटबंध निर्माण के लिए सालो से मांग कर रहे थे।शासन से तटबंध की स्वीकृति मिलने के बाद साल 2019 में करीब 3 किलोमीटर लम्बा तटबंध निर्माण का कार्य कराया गया है।
 आरोप है कि तटबंध निर्माण में  विभाग के अधिकारी और ठेकेदार द्वारा जमकर मनमानी की जा रही है। ग्रामीणों ने ये भी बताया कि इंजीनियर और विभाग के अधिकारी और कर्मचारी तटबंध को देखने तक नही आते ऐसे में ठेकेदार गुणवत्ताहीन  निर्माण किया गया  है। ग्रामीणों ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए तटबंध निर्माण की गुणवत्ता की जांच व सही ढंग से बनाने  मांग को लेकर सीएम भूपेश बघेल, कृषि मंत्री रवींद्र चौबे एवं मुख्य सचिव से करने की बात कही है।


तटबंध निर्माण सही ढंग से हुआ है ग्रामीणों का आरोप झूठा  व निराधार है।
 एके पलड़िया ईई जल संसधान विभाग धमतरी

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने