फिर से तेदुएं की चहलकदमी,घोड़े के दो बच्चों का किया शिकार,लोगों में दहशत


 आरती विनोद गुप्ता 
नगरी ।ग्राम पंचायत उमरगांव में लगभग 1 माह  बाद फिर से तेदुएं की चहलकदमी देखी गई है। शनिवार की रात तेंदुआ गांव के भीतर घुस आया और घोड़े(खच्चर ) के दो बच्चो का शिकार कर लिया है। जिससे ग्रामीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है। 
 नगरी सिहावा इलाके में लॉकडाउन के समय से ही तेंदुए द्वारा किये गए आतंक के कई घटनाये सामने आ चुकी है। जिसके चलते ग्रामीणों की नींद उड़ी हुई है कुछ दिनों पहले हुई घटनाओं के बाद शनिवार की रात तेंदुए ने फिर से उमरगांव में घुसकर घोड़े के दो बच्चों का शिकार कर लिया है। हालांकि इस बार तेदुएं का शिकार करने का तरीका अलग था। तेंदुए ने शिकार को करंज पेड़ पर घसीटते ले जाकर इसका भक्षण किया। जिसके अवशेष यहाँ के ग्रामीणों ने देखा है। बताया जा रहा है की घोड़े उमरगांव के ही है। ग्राम के महेश अग्रवाल, अंगेश हिरवानी, रोमेश साहू, देवेंद्र सेन, राजकुमार वैष्णव, मेघराज ध्रुव, कमलेश कश्यप, ललेश कश्यप, विष्णु शेष ने इस घटना की जानकारी वन विभाग को दी, जिसके बाद बिरगुड़ी रेंज से टीम तत्काल घटना स्थल पहुची और मृत घोड़े का पंचनामा किया।
 
पहले भी इस इलाके में तेंदुआ मचा चुका है आतंक-
इसी गांव में तेंदुआ विगत माह अप्रेल में गांव के भीतर घुस आया था और मवेशियों पर टूट पड़ा, जिससे दो मवेशी बुरी तरह घायल हो गए थे और एक कुत्ते को मारकर वह घसीटते हुए जंगल की ओर ले निकला था। इसी इलाके के पास रतावा में 6 वर्षीय मासूम बालक को शिकार करने की कोशिश की थी लेकिन घर वालो द्वारा चीख पुकार करने और दौड़ाने से वह भाग निकला था। यही मक्का के खेत मे घुसे रहने की घटना हो चुकी है इस दिन दिनदहाड़े तेदुआ आतंक भी मचा चुका है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने