फ्लू और सर्दी-खांसी के लक्षण वाले मरीजों को अलग से चिन्हांकित कर किया जाएगा उपचार

 
 
कलेक्टर ने कोविड अस्पताल और जिला चिकित्सालय का दौरा कर लिया व्यवस्थाओं का जायजा
 

धमतरी 29 मई 2020। जिले के नवपदस्थ कलेक्टर  जयप्रकाश मौर्य ने कार्यभार ग्रहण करने के दूसरे दिन शुक्रवार को दोपहर डीसीएच (बठेना) अस्पताल तथा जिला चिकित्सालय के समीप तैयार किए गए डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण कर आवश्यक दिशानिर्देश दिए। सबसे पहले उन्होंने डीसीएच में स्थापित किए कोविड केयर सेंटर का जायजा लिया, जहां पर पूर्व में की गई व्यवस्थाओं पर संतुष्टि जाहिर की। साथ ही उन्होंने जिला अस्पताल में आने वाले फ्लू, सर्दी-खांसी जैसे सामान्य लक्षण वाले मरीजों का पृथक् से चिन्हांकन कर उनका उपचार करने के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री मौर्य ने यह निर्देशित किया कि मुख्यमार्ग से कोविड सेंटर तक पहुंच मार्ग की बेरिकेटिंग कर रास्ता बंद किया जाए, जिससे कि अनावश्यक आवाजाही न हो। इसी तरह यहां भर्ती रहने वाले मरीजों को आपूर्ति की जाने वाली आवश्यक दवाइयां, पानी और भोजन आदि की व्यवस्था वार्ड के भीतर ही हों, जिससे कि वहां ड्यूटीरत चिकित्सा स्टाफ बाहर के लोगों से जहां तक संभव हो, सम्पर्क में आने ना पाएं। कलेक्टर ने सेंट्रल माॅनीटरिंग के माध्यम से मरीजों को सेवाएं उपलब्ध कराने के भी निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डी.के. तुर्रे को दिए। इसके अलावा 60 बिस्तरयुक्त मेल एवं फिमेल वार्ड में सैनिटाइजिंग का कार्य सतत् करने तथा वहां पर रखी गई वस्तुओं से यथासंभव सीधे सम्पर्क में नहीं आने के प्रयास करने पर बल दिया।

इसके बाद वे जिला अस्पताल गए, जहां पर एकलव्य छात्रावास के रिक्त भवन में बनाए जा रहे केयर सेंटर का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने यहां पर चल रहे निर्माण कार्यों को आगामी दस दिनों के भीतर पूर्ण करने के निर्देश कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को दिए। उक्त सेंटर में ऐसे मरीजों को रखने के निर्देश दिए, जो कोरोना संक्रमित है तथा कोविड सेंटर में दाखिल किए जाने के उपरांत स्वस्थ हो जाएंगे अथवा जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई हो, उन्हें कुछ दिन तक एकलव्य छात्रावास भवन स्थित सेंटर में चिकित्सकीय निगरानी में रखे जाएंगे। इन मरीजों के लिए ड्यूटीरत स्टाफ के लिए उसी परिसर में ही आवासीय सुविधाएं विकसित करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। इसके अलावा क्रमवार जरूरी सुविधाएं आगामी दस दिनों में मुहैया कराने के लिए कहा। उन्होंने यह स्पष्ट किया कि कोविड-19 वायरस से डरने के बजाय सकारात्मक सोच के साथ प्रशासनिक तैयारियां सुनिश्चित करें, जिससे कि इसे लेकर लोगों में जागरूकता आए। इस अवसर पर जिला पंचायत की सी.ई.ओ. नम्रता गांधी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डी.के. तुर्रे, सिविल सर्जन डाॅ. मूर्ति, एसडीएम धमतरी  मनीष मिश्रा, नगर निगम के कमिश्नर आशीष टिकरिहा उपस्थित थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने