रामपुर वार्ड की डबरी में स्थायी पम्प हाउस स्थापित कर गंदे पानी की निकासी करने के दिए निर्देश





महापौर-कलेक्टर ने निगम क्षेत्र के विभिन्न तालाबों का निरीक्षण कर तलाशी पौधरोपण की संभावनाएं


धमतरी 24 जून 2020। महापौर  विजय देवांगन एवं कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने सुबह नगर निगम क्षेत्रांतर्गत विभिन्न वार्डों का दौरा कर पौधरोपण के लिए समुचित स्थल की संभावनाएं तलाशीं, साथ ही बारिश के पानी की निकासी के लिए आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने रामपुर वार्ड, विंध्यवासिनी वार्ड, सोरिद वार्ड तथा जोधापुर वार्ड का भ्रमण कर विभिन्न स्थलों का निरीक्षण किया।

महापौर एवं कलेक्टर सुबह आठ बजे स्थानीय रामपुर वार्ड की निचली बस्ती में जलमग्न हो चुकी डबरी का निरीक्षण करने पहुंचे, जहां पर जमीन की सतह तक डबरी का पानी लबालब होत चुका था। महापौर ने बताया कि दो दिन पहले हुई बारिश में यह पूरी तरह भर गया, जिससे मच्छर, मक्खी के अलावा जहरीले जीव-जंतुओं का खतरा बढ़ गया है, वहीं डबरी के गंदे पानी की सड़ांध से लगातार बदबू उठने की शिकायत स्थानीय रहवासियों ने की। इस पर कलेक्टर ने पानी की निकासी के लिए स्थायी पम्प हाउस स्थापित करने के निर्देश नगर निगम के आयुक्त आशीष टिकरिहा को दिए। इसके अलावा तालाब के चारों ओर साफ-सफाई करने व पौधरोपण के लिए उपयुक्त जगह का चयन करने के लिए भी निर्देशित किया। इसके बाद विंध्यवासिनी वार्ड में स्थित सामुदायिक भवन के सामने खुड़िया तालाब का महापौर एवं कलेक्टर ने निरीक्षण किया। महापौर ने तालाब के किनारे पौधरोपण किए जाने की बात कही, कलेक्टर ने बताया कि चूंकि यह जगह खुली है, इसलिए आवारा मवेशियों की आवाजाही लगी रहेगी, ऐसे में ट्री-गाॅर्ड लगाने के बावजूद पौधों का बचना मुश्किल होगा। यहां पर कम ऊंचाई वाले पौधे सर्वाइव नहीं कर पाएंगे। उन्होंने निगमायुक्त को राजनांदगांव की तर्ज पर प्लास्टिक की पाइप में पांच फीट या उससे अधिक ऊंचाई वाले पौधे लगाने के लिए कहा। कलेक्टर ने बताया कि राजनांदगांव में इस पद्धति से लगाए गए 95 फीसदी पौधे जीवित हैं।

पौधे भले कम लगाएं, लेकिन उन्हें बचाने पर फोकस करें:- कलेक्टर ने इस दौरान कहा कि अधिक संख्या में पौधे लगाने के बाद यदि उन्हें बचा नहीं पाए तो यह सर्वथा अनुचित है, इसलिए पौधे भले ही कम लगाएं, लेकिन उन्हें बचाने के लिए पूरा-पूरा फोकस करना होगा और यही प्राथमिकता भी होनी चाहिए। इसके उपरांत जोधापुर वार्ड में शासकीय पीजी काॅलेज के समीप स्टेडियम का उन्होंने निरीक्षण किया, जहां पर स्टेडियम के भीतर किनारे किनारे और बाहर में रिक्त भूमि पर सघन पौधरोपण करने के लिए निर्देशित किया। साथ ही नगरीय प्रशासन के साथ-साथ स्थानीय सहयोग से पौधों को जीवित रखने पर भी जोर दिया।
इसके अलावा सोरिद वार्ड में बागतराई रोड पर नाले का उन्होंने निरीक्षण किया। बताया गया कि बारिश में सड़क के ऊपर दो फीट तक पानी बहता है जिससे आवाजाही बंद हो जाती है। इस पर कलेक्टर ने नाले की डिफिलिंग तथा गाॅर्ड वाॅल के लिए प्राक्कलन तैयार करने के निर्देश नगर निगम के आयुक्त को दिए। इसी तरह लोहरसी मार्ग पर निर्माणाधीन पुल पर बंड को क्लियर कराकर जल-निकासी दुरूस्त करने के लिए भी निर्देशित किया। इस अवसर पर एसडीएम  मनीष मिश्रा, निगम के स्वास्थ्य अधिकारी सतीश त्रिपाठी भी उपस्थित थे।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने