पर्यावरण दिवस पर औषधीय व अन्य पौधों का रोपण,रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाला काढ़ा "आनन्द गोष्ठी" द्वारा वितरित



निगम एवं वन विभाग के कर्मचारियों और रहवासियों को  लाभ


इन्दौर। कोरोना महामारी प्रकोप के बीच आनंद गोष्ठी और एडवांस योग एवं नेचुरोपैथी अस्पताल  द्वारा  प्राकृतिक उद्यान (नेचुरोपैथी गार्डन) में औषधीय पौधों का रोपण और अन्य पौधों का रोपण बृजेश्वरी कालोनी में किया गया। भीड़ नहीं बुलाते हुये तथा पूरी तरह से दूरी बनाकर एवं मास्क लगाकर पौधों का रोपण किया गया। पौधारोपण करने आने वालों का बारी-बारी से थर्मल जाँच भी थर्मल गन डाॅ. जितेन्द्र पुरी द्वारा किया गया।
आनंद गोष्ठी के संरक्षक  गोविंद मालू और सेंटर के संचालक डाॅ. ए.के. द्विवेदी ने बताया कि यह उद्यान नेचुरोपैथी अस्पताल से लगा हुआ है। इस नेचुरोपैथी उद्यान में गर्मी के दिनों में भी सब्जियाँ एवं फल मिलते रहे। यहाँ आने वाले मरीजों को यहीं के पपीते, ककड़ी, टमाटर, प्याज, पालक, भिण्डी की सब्जी प्रदान की जाती है। प्रतिदिन काढ़े में यहीं की श्यामा तुलसी डाली जाती है। आज औषधीय तथा फलदार पौधों में जामुन, जो कि डायबिटीज के लिये अत्यन्त लाभकारी है, अशोक, तुलसी के साथ-साथ आँवला, नीम, गिलोय (अमृता) के पौधे लगाये गये। 


औषधीय पौधों के फायदे के बारे में डाॅ. ए. के. द्विवेदी ने विस्तार से इस अवसर पर बताया कि कोलेस्ट्रॉल कम करने में सहायक पपीते में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है, वजन घटाने में एक मध्यम आकार के पपीते में 120 कैलोरी होती है, रोग प्रतिरक्षा क्षमता बढ़ाने में, आंखों की रोशनी बढ़ाने में, पाचन तंत्र को सक्रिय रखने में, पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में आराम देता है। इसी तरह आँवले का सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है, तथा कैंसर से बचाता है, इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। आँवले का जूस पेप्टकि अल्सर में बहुत कारगर साबित होता है। आँवला शरीर में मौजूद गंदगी को साफ कर वजन कम करने में भी फायदेमंद होता है। दस्त में आराम, हाई ब्लड प्रेशर में, आंख की रौशनी में आदि परेशानियों के लिये अत्यन्त लाभकारी है।
संस्था आनन्द गोष्ठी के संरक्षक गोविन्द मालू के सौजन्य से नगर निगम के एवं वन विभाग के कर्मचारियों और बुजुर्ग नागरिकों  को विशेष प्रकार का रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाला काढ़ा वितरित किया गया। 
पौधा रोपण कार्यक्रम में गोविंद मालू, डॉ द्विवेदी, डाॅ. भूपेन्द्र गौतम , डाॅ. जितेन्द्र कुमार पुरी उपस्थित थे। स्थानीय रहवासियों में विशाल देशपाण्डे,  प्रहलाद अग्रवाल, अरुण जोशी, विनय पाण्डेय सहित नगर निगम एवं वन विभाग के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने