राज्य शासन के आदेश के बाद बस संचालन के लिए मालिकों ने रखी ये शर्तें....


बस स्टैंड में विरानी
भूपेंद्र साहू 
धमतरी। राज्य सरकार द्वारा अंतर जिला बस संचालन का आदेश जारी करने के बाद बस मालिकों ने अपनी कुछ शर्ते रखी है ।जिसकी वजह से अब तक धमतरी में भी बसों का संचालन शुरू नहीं हो पाया है ।इस संबंध में धमतरी जिला बस ऑनर्स यूनियन ने विधायक,कलेक्टर और आरटीओ  को अपनी मांगों से अवगत करा दिया है। ज्ञात हो कि 18 मार्च से सभी अंतर राज्य और 21 मार्च से सभी अंतर जिला बसों का संचालन कोरोनावायरस संक्रमण के बाद लॉक डाउन की वजह से बंद रखा गया है ।25 जून को राज्य सरकार द्वारा वाहनों के संचालन को तत्काल प्रभाव से शुरू करने का आदेश जारी किया गया है। लेकिन बस मालिकों ने कहा है कि वे संचालन करने में असमर्थ हैं। उनकी कुछ मांगे यदि पूरी हो जाती है तो निश्चित ही बस सड़कों में शुरू कर देंगे।

 ये रखी गई है मांगे-
1. बसों के संचालन रहने की अवधि के पश्चात छह माह की टैक्स माफी की जाए 
2. डीजल के वेट टैक्स में 50% की कटौती
3. फार्म के एवं फार्म एम की 2 माह की बाध्यता को समाप्त किया जाए 
4.बढ़ती हुई डीजल की कीमतों के साथ-साथ यात्री किराया भी बढ़ाई जाए एवं वृद्धि की स्थाई नीति बनाएं 
5.प्राधिकार के बनने से पहले जो कार्य आरटीओ द्वारा किया जाता था उसे पुनः लागू करने
6.व्हीलबेस के आधार पर बैठक क्षमता को समाप्त करने 
7.जिन वाहनों के कागजात की वैधता समाप्त हो गई है उनकी फीस पटाने के लिए ओटीपी करने की मांग की गई है ।
अध्यक्ष महावीर प्रसाद गुप्ता और गोविंद साहू ने बताया कि हमारी मांगों पर सहानुभूति विचार कर बस मालिकों को यदि राहत दी जाती है तो वह जल्द ही अपने बसों का संचालन शुरू कर देंगे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने