खिलेंद्र देवांगन ने मेरिट में स्थान बनाकर जिले का मान बढ़ाया,मिल रही है लगातार बधाइयाँ



भूपेंद्र साहू ब्यूरो 
धमतरी।10वीं और 12वीं के नतीजे घोषित कर दिए हैं।इस नतीजे में धमतरी के खिलेंद्र देवांगन ने 12वीं  में टॉप टेन में अपनी जगह बनाई है। खिलेंद्र 95.40 अंकों के साथ प्रदेश में 8वें स्थान पर हैं। खिलेंद्र सरस्वती शिशु मंदिर का छात्र है।उनकी इस कामयाबी के बाद पूरे परिवार में खुशी का माहौल है। घर पर लगातार बधाई देने के लिए लोग पहुंच रहे हैं।खिलेंद्र शुरू से ही मेधावी छात्र रहा है।

 सरस्वती शिशु मंदिर में वह कॉमर्स का  छात्र रहा। खिलेंद्र ने बताया कि पढ़ाई का टाइम उन्होंने कभी निश्चित नहीं किया। कभी एक घंटे तो कभी 4 घंटे पढ़ाई करता था।उन्हें यह उम्मीद भी नहीं थी कि वह टॉप 10 में जगह बना लेगा। लेकिन खिलेंद्र को ये मालूम था कि इस बार अच्छे अंक जरूर हासिल करेगा।


महापौर,कांग्रेस अध्यक्ष ने दी बधाई

भाजपा अध्यक्ष भी पहुंचे बधाई देने
खिलेन्द्र ने इसका श्रेय अपने माता-पिता(चंद्रशेखर देवांगन,टिकेश्वरी देवांगन ) और गुरुजनों को दिया है. भविष्य में वह चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) बनना चाहता है। कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य, सी.ई.ओ.  नम्रता गांधी सहित जिला शिक्षा अधिकारी ने छात्र खिलेन्द्र को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए बधाई दी है, साथ ही जिले को गौरवान्वित करने के लिए अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की हैं।


छात्रों की तुलना में उत्तीर्ण छात्राओं का प्रतिशत अधिक

जिले के हाई स्कूल के 72.64 प्रतिशत, तो हायर सेकण्डरी के 84.48 प्रतिशत विद्यार्थी उत्तीर्ण
छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल रायपुर के द्वारा हाई स्कूल तथा हायर सेकण्डरी स्कूल की परीक्षाओं के नतीजे जारी किए गए। जिले के हाईस्कूल परीक्षा (10वीं) में उत्तीर्ण विद्यार्थियों के परिणामों का प्रतिशत 72.64 तथा हायर सेकण्डरी (12वीं) के उत्तीर्ण विद्यार्थियों का प्रतिशत 84.48 रहा। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि पिछले वर्ष की भांति इस बार भी छात्राओं ने अधिक अंक अर्जित किया। हाई स्कूल परीक्षा में कुल 72.64 विद्यार्थी उत्तीर्ण रहे, इनमें 75.15 प्रतिशत छात्राएं तथा 69.46 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण रहे। इसी प्रकार हायर सेकण्डरी की परीक्षा में शामिल विद्यार्थियों में से उत्तीर्ण रहे परीक्षार्थियों का प्रतिशत 84.48 रहा। इनमें 86.63 प्रतिशत छात्राओं तथा 81.75 प्रतिशत छात्रों ने परीक्षा उत्तीर्ण की। इस तरह दोनों परीक्षाओं में जिले की छात्राओं ने छात्रों की तुलना में अधिक अंक अर्जित किए।

जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार हाई स्कूल परीक्षा में जिले के कुल 12 हजार 586 विद्यार्थी पंजीकृत थे, इनमें 5 हजार 573 बालक तथा 7 हजार 13 बालिका सम्मिलित हैं। इनमें से 12 हजार 470 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए। इनमें से 4 हजार 38 विद्यार्थी प्रथम, 4 हजार 648 विद्यार्थी द्वितीय तथा 373 विद्यार्थी तृतीय श्रेणी के साथ उत्तीर्ण हुए। परीक्षा में कुल 3 हजार 819 बालक तथा 5 हजार 240 बालिकाएं उत्तीर्ण रहीं, यानी कुल 9 हजार 59 विद्यार्थी ने परीक्षा पास की, जबकि एक हजार 83 को पूरक की पात्रता मिली। इस प्रकार जिले में दसवीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम 72.64 प्रतिशत रहा।
इसी तरह हायर सेकण्डरी परीक्षा के लिए जिले में कुल 9 हजार 773 पंजीकृत विद्यार्थी थे, इनमें 4 हजार 309 बालक तथा 5 हजार 464 बालिकाएं थीं। इसमें से 9 हजार 747 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। सम्मिलित छात्र-छात्राओं में से 8 हजार 233 विद्यार्थी उत्तीर्ण रहे, इनमें 3 हजार 509 छात्र तथा 4 हजार 724 छात्राएं शामिल हैं। इनमें से 2 हजार 889 विद्यार्थी प्रथम श्रेणी, 4 हजार 941 विद्यार्थी द्वितीय श्रेणी तथा 402 विद्यार्थी तृतीय श्रेणी के साथ उत्तीर्ण रहे, जबकि एक विद्यार्थी उत्तीर्णांक के साथ उत्तीर्ण रहा। इसके अलावा एक हजार 13 विद्यार्थियों को पूरक की पात्रता प्राप्त हुई। इस तरह 84.48 प्रतिशत विद्यार्थी कक्षा 12वीं की परीक्षा में उत्तीर्ण रहे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने