स्कूल बंद होने का फायदा उठा रहे कोचिंग संस्थान, बिना परमिशन चला रहे क्लास,दे रहे कोराना को आमंत्रण




राजेश रात्रे 
भखारा।कुरूद ब्लॉक अन्तर्गत ग्राम पंचायत कोर्रा में कोचिंग संचालक के द्वारा इस कोराना काल में शासन के नियमो को अनदेखा कर फायदा उठाया जा रहा है। ओम कोचिंग सेंटर के संचालक द्वारा बिना प्रशासन के अनुमति के लिए कोचिंग पढ़ाया जा रहा है।

यहां न ही यहां पर्याप्त सुविधा है और ना ही कोरॉना से बचाव के लिए सावधानी बरती जा रही है। बच्चो के बीच थोड़ा भी डिस्टेंस नहीं है और ना ही विद्यार्थी मास्क में दिखाई दिए।कोचिंग में दूर दूर से बच्चो आते है, जिससे संक्रमण का खतरा और भी बढ़ जाता है।

जहां एक तरफ समस्त स्कूल और शिक्षण संस्थान बंद है  यही ओम कोचिंग संस्थान कोर्रा  द्वारा बच्चो को छोटे से कमरे में क्षमता से अधिक बिठा कर कोचिंग पढ़ाया जा रहा है।प्रशाशन से किसी भी प्रकार की कोई अनुमति नहीं ली गई है।स्वास्थ्य विभाग ने भी सचेत किया है कि आनेवाले महीनों में कोरोना से बचने काफी सावधानी बरतने की आवश्कता है। ऐसे समय में कोचिंग पढ़ाया जाना घोर चिंता का विषय है।

इस सम्बन्ध में संचालक संजय साहू ने बताया कि बच्चो को पढ़ाई को नुकसान ना हो इसलिए बहुत कम बच्चो से कोचिंग की शुरुआत की गई थी,लेकिन बच्चे बढ़ते गए।उन्होंने यह भी बताया कि गरीब तबके के कुछ बच्चो को निशुल्क भी पढ़ाया जा रहा है।अन्य बच्चो से प्रति विषय तीन सौ रुपए ट्यूशन फीस लेते है। यहां दसवीं बारहवी के बच्चो को भौतिकी रसायन और गणित का विषय तीन सौ रुपए प्रति विषय के लिए फीस लिया जा रहा है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने