डीएमएफ की शासी परिषद् की बैठक में कोविड अस्पताल सहित प्रस्तावित कार्यों को किया गया अनुमोदित


डी.एम.एफ. की राशि के सदुपयोग पर प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने दिया जोर


धमतरी 10 जुलाई 2020। प्रदेश के वाणिज्यिक कर (आबकारी), वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री  कवासी लखमा की अध्यक्षता में आज जिला खनिज संस्थान न्यास की शासी परिषद् की बैठक आहूत की गई। जिसमें वित्तीय वर्ष 2019-20 में जिला खनिज निधि से कुल दो करोड़ 84 लाख 88 हजार के 23 विभिन्न कार्यों के कार्योत्तर अनुमोदन किए गए। इसके अलावा 2020-21 में जिला खनिज संस्थान न्यास निधि से अनुमोदन की प्रत्याशा में किए गए तीन करोड़ 37 लाख के कार्यों की समीक्षा कर स्वीकृति दी गई। जिसमें स्वास्थ्य देखभाल के क्षेत्र में कोविड 19 के मद्देनजर 22.68 लाख रूपए की लागत से कोविड अस्पताल में विभिन्न सामग्रियों की व्यवस्था, विद्युत व्यवस्था तथा धमतरी लाईवलीहुड कन्या छात्रावास में कोविड अस्पताल निर्माण के कार्य सम्मिलित हैं।
इसके अलावा पर्यावरण संरक्षण और प्रदूषण नियंत्रण हेतु लिए गए तीन कार्य लागत एक करोड़ 16 लाख 97 हजार रूपए तथा हितग्राहीमूलक कार्य सम्मिलित हैं।

इसके अलावा पांच करोड़ के कार्यों को बजट मिलने की प्रत्याशा में अनुमोदित किया गया, जिसमें उच्च प्राथमिकता वाले कार्य, हितग्राहीमूलक कार्य, स्वास्थ्य, सुपोषण, शिक्षा, पर्यावरण संरक्षण तथा अधोसंरचना सम्मिलित है। इनमें लघु, सीमांत अनुसूचित जनजाति एवं विशेष पिछड़ी जनजातियों को कृषि घटक उपलब्ध कराने के लिए कृषक अंशदान राशि एक करोड़ रूपए, एन.जी.जी.बी. के तहत सामुहिक बाड़ी, महिला स्वसहायता समूह, लघु एवं सीमांत कृषक, अनुसूचित जाति, जनजाति एफ.आर.ए. क्लस्टर अंतर्गत कृषकों को पोषण बाड़ी सब्जी क्षेत्र विस्तार, पुष्प क्षेत्र विस्तार एवं पुष्प दर्शन के लिए 65 लाख रूपए, आश्रम-छात्रावास, स्कूलों में आंतरिक विद्युतीकरण, मरम्मत, एवं गैप फीलिंग के तहत पंखों की उपलब्धता के लिए 60 लाख रूपए, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत अति गंभीर कुपोषित बच्चों की पूरक पोषण आहार इत्यादि की उपलब्धता के लिए 30 लाख रूपए, वृक्षारोपण कार्य हेतु अभिसरण मद के तहत सामुदायिक चैन लिंक फेंसिंग, बोर खनन और गैप फिलिंग के लिए 30 लाख रूपए, गंगरेल जलाशय में छः मछुआ सहकारी समितियों को मत्स्याखेट उपकरण के रूप में जाल सहायता प्रदाय करने 21 लाख रूपए, जलाशय में मत्स्य उत्पादकता वृद्धि के लिए मत्स्य बीज उपलब्ध कराने 19 लाख रूपए, जबर्रा पर्यटन विकास के लिए 20 लाख रूपए सहित अन्य उच्च प्राथमिकता वाले कार्य सम्मिलित हैं। प्रभारी मंत्री ने डीएमएफ की राशि का सदुपयोग करते हुए ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभ देने पर बल दिया।
बैठक में शासी परिषद् के सदस्य के रूप में विधायक सिहावा डाॅ.लक्ष्मी ध्रुव, विधायक कुरूद के प्रतिनिधि  प्रवीण चन्द्राकर, नगरपालिका निगम धमतरी के महापौर विजय देवांगन, जिला पंचायत उपाध्यक्ष निशु चन्द्राकर,  मोहन लालवानी, पूर्व धमतरी विधायक  गुरूमुख सिंह होरा सहित कलेक्टर  जय प्रकाश मौर्य, पुलिस अधीक्षक बी.पी.राजभानू, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  नम्रता गांधी, अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल सहित जिला स्तरीय अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने