48 घंटे के बाद भी नहीं पहुंचे नक्सली के परिजन, स्वर्ग धाम सेवा समिति की मदद से पुलिस ने कराया अंतिम संस्कार



भूपेन्द्र साहू
धमतरी। घोरागांव जंगल मे मुठभेड़ में मारे गए नक्सली रवि का शव लेने उसके परिजन सामने नहीं आये। 48 घंटे बीत जाने के बाद भी  नहीं पहुंचने पर स्वर्ग धाम सेवा समिति ने अंतिम संस्कार किया।

ज्ञात हो कि 30 अगस्त की रात्रि घोरागांव के जंगल में पुलिस और नक्सलियों के साथ मुठभेड़ हुआ था। इस दौरान पुलिस ने एक नक्सली को मार गिराया । जिसकी पहचान नक्सली कमांडर रवि कुमार उर्फ सन्नू  के रूप में हुई थी। जो गोबरा एलओएस कमेटी का कमांडर था।पुलिस ने साक्ष्यों के आधार पर सुकमा पुलिस से संपर्क साधकर उनके परिजनों तक खबर भिजवाया । लेकिन वे लाश लेने नहीं आए।

इस संबंध में कोतवाली थाना प्रभारी भावेश गौतम ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद नक्सली का शव जिला अस्पताल में रखा गया था। 48 घंटे के बाद भी परिजन नहीं पहुंचने पर पूरी प्रक्रिया करने के बाद  शव का अंतिम संस्कार स्वर्ग धाम सेवा समिति की मदद से कर दिया गया। अंतिम संस्कार के दौरान स्वर्गधाम सेवा समिति के महासचिव अशोक पवार, संतोष सार्वा, अजय कुमार आदि मौजूद थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने