देश के लिए कुछ कर गुजरने की तमन्ना रखने वाले युवाओं के बीच पहुंची ASP, बढ़ाया हौसला



धमतरी | रुद्री महानदी के किनारे जिले के युवाओं को सेना में जाने के लिए प्रोत्साहित करने रिटायर्ड फौजी लोकेश साहू  नि: शुल्क ट्रेनिंग दे रहे है |युवाओं का उत्साहवर्धन करने जिले के एएसपी  मनीषा ठाकुर ट्रेनिंग स्थल पहुंची| अपने बीच जिले के बड़े अधिकारी को पाकर युवा काफी खुश हुए | एएसपी ने युवाओं का उत्साहवर्धन करते हुए कैरियर मार्गदर्शन दिए|

एएसपी ने नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए लोकेश साहू के इस कार्य की प्रशंसा की| कहा कि जिले के युवाओं में देश प्रेम के प्रति भावना जागृत करने के लिए रिटायर्ड फौजी ने शहर में नि:शुल्क ट्रेनिंग की शुरुआत की है | वह काबिलेतारीफ है| मुझे इस बात की खुशी हो रही है कि यहां ट्रेनिंग लेने आ रहे युवाओं में सबसे ज्यादा लड़किया है| अपने सपने को साकार करने सुबह घर से निकल जाती है | आज किसी भी क्षेत्र में बेटियां बेटों से कम नहीं है| महिलाएं आज सभी क्षेत्रों में पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रही है| उन्होंने युवाओं का हौंसला आफजाई करते हुए कहा कि व्यक्ति को हार से नहीं घबराना चाहिए |

असफलता से ही सफलता का सृजन होता है | मेहनत और जुनून सफलता के दो आधार स्तंभ है| बस जरूरत है तो खुद में बदलाव करने की| सफलता हासिल करने के लिए आप खुद से सवाल करें कि आप अपने जीवन में क्या चाहते हैं जब आपको जवाब मिल जाए तो उसे पूरा करने में पूरी तन्मयता से जुट जाएं | जिंदगी में वही आगे बढ़ता है जो अपने जीवन में कठोर निर्णय लेता है और उनका यह निर्णय ही उन्हें नई ऊंचाइयों तक ले जाता है | खुद पर भरोसा रखें, सफलता आपके कदम चूमेगी | इस दौरान युवाओं ने ASP से  कैरियर संबंधी सवाल भी किये  जिनका जवाब उन्होंने अपने अनुभवों  को साझा करते हुए दिए| उनकी हर जिज्ञासाओं को शांत किया |उन्होंने युवाओं को हर संभव मदद का आश्वासन  दिया | उन्होंने युवाओं से एक जिम्मेदार नागरिक बनने का आव्हान करते हुए कहा कि आपके आसपास कोई घटना घटती है तो इसकी जानकारी  तत्काल पुलिस  कंट्रोल नंबर 100 पर दें |

ट्रेनर लोकेश साहू  ने बताया कि शहर एवं  ग्रामीण क्षेत्रों में  ऐसे कई नवयुवक है जो देश सेवा में जाने को उत्सुक है| लेकिन मार्गदर्शन के अभाव में उनका यह सपना पूरा नहीं हो पाता | उनके सपने को साकार करने हमने युवाओं को फिजिकल ट्रेनिंग देना शुरु किया | शहर के अलावा गावों से भी बच्चे आ रहे है | अभी लगभग 130 लड़के लड़कियां ट्रेनिंग के लिए पहुंचते हैं। सुबह 5.30बजे से 7बजे तक फिजिकल ट्रेनिंग दी जाती है | उसके बाद मेडिटेशन  रखा जाता है । उन्होंने बताया कि  40 युवा कवर्धा में भर्ती के लिए तैयारी कर रहे हैं ।इसके अलावा लड़कियां एनडीए ,आईएमए, दिल्ली पुलिस, बीएसएफ के लिए भी तैयारी कर रही है ।युवाओं का हौंसला बढ़ाने ASP मनीषा ठाकुर ट्रेनिंग स्थल पहुंची थी | कैरियर मार्गदर्शन देते हुए अपने अनुभव शेयर किये | इससे युवाओं को काफी लाभ पहुंचा |

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने