ग्राम पंचायत उमरगाँव के पूर्व कार्यकाल में हुए भ्रष्टाचार में जांच की मांग

 


नगरी।आदर्श ग्राम पंचायत  उमरगांव में पूर्व सरपंच ने पंचायत के कर्मचारी के साथ मिलीभगत कर विभिन्न विभाग के निर्माण कार्यों को कराया था जिसमें भारी मात्रा में भ्रष्टाचार होने की शिकायत ग्रामीण जनों ने सिहावा विधानसभा क्षेत्र की विधायक डॉ लक्ष्मी ध्रुव एवं कांग्रेस कमेटी जिला अध्यक्ष शरद लोहाना  जिला पंचायत धमतरी के उपाध्यक्ष निशू चंद्राकर के समक्ष लिखित शिकायत किया है। जिसमें इन सभी के द्वारा इस मामले को संज्ञान में लेते हुए कलेक्टर धमतरी  से उचित कार्यवाही करने के साथ-साथ  इस मामले में जो भी दोषी हैं उनके  ऊपर जांच कमेटी बिठाने के लिए ग्रामीण जनों को आश्वस्त किया।

 


 ज्ञात हो कि जिला पंचायत सदस्य मनोज साक्षी क्षेत्र क्रमांक 13 के मार्गदर्शन में उमरगांव के ग्रामीणों द्वारा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत धमतरी से ग्राम पंचायत के विभिन्न कार्यों जैसे कि ग्राम पंचायत उमरगांव में  स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण किया गया जिसमें सभी  ग्रामीणों को समान राशि ना देकर लेकिन किसी को 2000, 5000, 7000, एवं ,10000 रुपए दिया गया है जो कि ग्रामीणों के साथ अन्याय है साथ ही  सरपंच द्वारा अपने परिवार और पहचान वालों का कोठा निर्माण कार्य कराया गया है जबकि ग्राम में  कई लोगो का शासन द्वारा सत्र 2016 में स्वीकृत कोठा का लाभ लाभार्थियों को देने से वंचित किया गया ।मनरेगा की वेबसाइट में अभी भी सूची में नाम दिख रहा है जिसका लाभ नहीं मिला है ।



इसी तरह मनरेगा निर्माण कार्य राव खार लक्ष्मीनाथ के खेत से मिश्रीलाल खेत तक मिटटी मुरूम से सडक निर्माण कार्य हुआ है जिसमें मिट्टी तो डाला गया है लेकिन मुरूम सिर्फ 4-5 ट्रैक्टर डाला गया है जिसमे मुरुम की राशि 135000 आहरण किया गया है और रोलर तो कभी चला ही नहीं लेकिन रोलर का भी बिल ₹38000 डालकर राशि आहरण किया गया है ।साथ ही ग्राम पंचायत उमरगांव के हर्रा पारा उमरगांव, छिंदीटोला,  पारा के गोठानो में भी नाम मात्र का मुरूम डाला गया है लेकिन मुरूम की राशि का आहरण लाखों में किया गया है ।गांव के नया तालाब के पास पुलिया निर्माण किया गया है जिसमें 360000 का मटेरियल का बिल लगाया गया है जो कि जमीनी स्तर पर देखने पर बिल्कुल भी नहीं लगता कि इसमें इतनी राशि का मटेरियल लग सकता है । सभी बिंदुओं पर लिखित शिकायत करते हुए इन सभी मामलों में जल्द से जल्द कार्यवाही करने की मांग जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी से की है। जिस पर उन्होंने लोगों को आश्वस्त करते हुए कहा कि 15 दिन के अंदर एक कमेटी बिठाकर इस मामले की निष्पक्ष जांच की जाएगी।


 शिकायतकर्ता के रूप में  ग्राम के पूर्व सरपंच  कबीलाश ध्रुव,  गणेश राम सूर्यवंशी, विशाल राम साहू, पूनम कस्यप, उमेश मरकाम सवेश मरकाम, मनक मरकाम,  गजेंद्र साहू, महेंद्र पांडेय, प्रेम लाल साहू नारायण ध्रुव, आदि थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने