जागरूकता: बच्चों को टीका लगवाने नांव से लेकर टीकाकरण केंद्र पहुँची मितानिन

 


साहस की हो रही है तारीफ



भूपेंद्र साहू

धमतरी। जापानी बुखार से बचाने राज्य शासन द्वारा टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। इसके लिए ग्रामीण क्षेत्र के बच्चे छूट ना पाए इसके लिए मितानिन नांव से बच्चों को लेकर टीकाकरण केंद्र पहुंची जिसकी चारों तरफ प्रशंसा हो रही है।

 आजादी के इतने वर्षों बाद भी देश के कई ऐसे क्षेत्र हैं जो अभी भी पिछड़े हैं ऐसे ही धमतरी जिला मुख्यालय के दूरस्थ क्षेत्र में बसा ग्राम पंचायत अरौद डूबान का आश्रित गांव किशनपुरी है जो सुविधाओं का मोहताज है। यहां गांव की मितानिन सतबती साहू टीकाकरण के लिए बच्चों को नाव में लेकर केंद्र पहुंची। मितानिन को इस बात की चिंता थी कि उसके गांव के बच्चे टीकाकरण से वंचित न रह जाए इसलिए अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए वह गांव के 11 बच्चे पूजा साहू, खिलेश कुमार, पंकज, मयंक, हिना निषाद ,तमेश कुमार, सेवन कुमार, पायल, रोशनी,चिंटी, हिनेश को लेकर पानी के रास्ते से लगभग डेढ़ किलोमीटर की दूरी तय कर पंचायत मुख्यालय तक स्वयं नाँव को खेते हुए पहुंची। मितानिन का यह कार्य वास्तव में लोगों के लिए प्रेरणादाई है जो कुछ करना चाहते हैं।यह पद मानदेय का पद होता है उन्हें स्थाई तनख्वाह नहीं मिलती है।


 विधायक ने की पुरस्कृत करने की मांग

 विधायक रंजना साहू  को सतबती के कार्यों की जानकारी प्राप्त हुई तो उन्होंने संपर्क कर इस समर्पित भाव के लिए उन्हें बधाई देते हुए कहा कि ऐसे लोग ही समाज राज्य व राष्ट्र के लिए प्रेरणादाई होते हैं ।उन्होंने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर इस मितानिन को पुरस्कृत करने की मांग की है।



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने