धान खरीदी व आवक पर नजर रखने जांच दल, उड़नदस्ता दल गठित

 



File


धमतरी 24 नवम्बर 2020। समर्थन मूल्य में धान खरीदी के दौरान कुछ व्यक्तियों द्वारा पड़ोसी राज्यों से धान लाकर खरीदी केन्द्रों में विक्रय करने की आशंका बनी रहती है। जिले के सीमावर्ती उड़ीसा राज्य से विकासखण्ड नगरी के बोराई/बेलरबाहरा क्षेत्र में अवैध धान का परिवहन कोचियों, व्यापारियों द्वारा भी धान उपार्जन केन्द्रों में विक्रय के लिए लाया जा सकता है। इसके मद्देनजर कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने इसकी रोकथाम के लिए लिए जांच दल गठित किए हैं। दल द्वारा धान खरीदी अविध के दौरान धान की आवक की नियमित निगरानी सुनिश्चित की जाएगी और अनियमितता पाए जाने पर वाहन/धान की जप्ती की भी कार्रवाई की जाएगी। खाद्य अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक दल में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व नगरी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार नगरी/कुकरेल, परिवहन अधीक्षक, खाद्य निरीक्षक, सचिव कृषि उपज मंडी समिति नगरी, सहकारिता विस्तार अधिकारी नगरी, वन परिक्षेत्र अधिकारी केरेगांव और सांकरा को शामिल किया गया है।

  


इसी तरह समर्थन मूल्य में धान खरीदी के दौरान कुछ व्यक्तियों द्वारा पड़ोसी राज्यों से धान लाकर खरीदी केन्द्रों में विक्रय करने एवं धान के अवैध संग्रहण, परिहवन की आशंका के मद्देनजर कलेक्टर ने उड़नदस्ता दल गठित किया है। उड़नदस्ता दल द्वारा धान की आवक की नियमित निगरानी की जाएगी। साथ ही अनियमितता पाए जाने पर जप्त धान को मंडी अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए अवैध रूप से धान परिवहन में जप्त वाहनों को संबंधित थाना की अभिरक्षा में रखने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। खाद्य अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक उड़नदस्ता दल में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धमतरी/कुरूद, तहसीलदार धमतरी/कुरूद एवं नायब तहसीलदार धमतरी/कुरूद/भखारा को शामिल किया गया है। इसी तरह वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी धमतरी/कुरूद, खाद्य निरीक्षक धमतरी/कुरूद/मगरलोड, सचिव, कृषि उपज मंडी समिति धमतरी/कुरूद और सहकारिता विस्तार अधिकारी धमतरी/कुरूद को उड़नदस्ता दल में शामिल किया गया है।



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने