कृषि बिल के विरोध में बनाया मानव श्रृंखला, वापस लेने सौंपा ज्ञापन

 


धमतरी। केंद्र सरकार द्वारा पारित तीनों नई कृषि कानून के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वाधान में पिछले 19 दिनों से दिल्ली  बॉर्डर पर किसान अपने परिवारों के साथ आंदोलनरत है। जिनके समर्थन में सोमवार को पूरे देश में जिला मुख्यालय पर तीनों बिल को वापस लेने के लिए प्रदर्शन किया गया।

इस कड़ी में धमतरी जिला में भी राष्ट्रीय मतदाता जागृति मंच,राष्ट्रीय किसान मोर्चा प्राकृतिक न्याय समिति एवं कई संगठनों के द्वारा संयुक्त रूप से किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए केंद्र सरकार  द्वारा पारित तीनों कृषि बिल को वापस लेने की मांग को लेकर घड़ी चौक में मानव श्रृंखला बनाकर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनकारियों द्वारा  रैली के रूप में एसडीएम कार्यालय पहुंचकर नारे बाजी करते हुए अपनी 5 सूत्रीय ज्ञापन राष्ट्रपति के नाम एसडीम मनीष मिश्रा को सौंपा।

 इस अवसर पर संयुक्त मोर्चा के सलाहकार अधिवक्ता शत्रुहन सिंह साहू ने कहा कि दिल्ली की मोदी सरकार किसान विरोधी काले कानून लाकर खेती किसानी को बर्बाद कर किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बनाने का षड्यंत्र कर रही है।

राष्ट्रीय मतदाता जागृति मंच के जिला अध्यक्ष संजय चंद्राकर एवं उपाध्यक्ष रोहित दास मानिकपुरी ने कहा किसानों के सम्मान में केंद्र सरकार को तीनों के सभी को वापस लेना चाहिए नहीं तो किसान हितैषी होने का ढोंग नहीं करना चाहिए जब अन्नदाता ही नहीं रहेगा तो देश भी नहीं बचेगा।

  प्रदर्शनकारियों में मुख्य रूप से अधिवक्ता शत्रुघ्न साहू,संजय चंद्राकर,लीला राम साहू, घनाराम साहू, टिकेश्वर साहू, अशफाक  हाशमी,भुनेश्वर साहू, मनोज भट्ट,वीरेंद्र कुमार साहू, सविता सिंह, सरिता वर्मा, निहाल साहू, सुदर्शन ठाकुर ,महावीर साहू,पंचराम पटेल ,सतवंत, राम निहोरा निषाद ,देवनारायण साहू, दीनदयाल, राम विशाल साहू ,संतराम साहू, नकुल साहू ,महिपाल साहू ,हनुमान प्रसाद सिन्हा, रोहित दास मानिकपुरी थे।



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने