Bird Flu: संक्रमित जोन छाती के एक किलोमीटर की परिधि में रैपिड रिस्पांस टीम का एक्शन शुरू

 

भूपेंद्र साहू

धमतरी। धमतरी विकासखंड के ग्राम छाती में 15 मृत मुर्गियों में एवियन एन्फ्एन्जा (एच-5 एन-1) की जांच के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट मिली है इसके मद्देनजर प्रभारी कलेक्टर मयंक चतुर्वेदी ने छाती के एक किमी परिधि को इन्फेक्टेड जोन और एक से दस किलोमीटर को सर्विलेंस जोन घोषित किया है। इन्फेक्टेड जोन के सभी कुक्कुट पक्षियों को मारने के लिए आदेशित किया गया है। जिसका पालन शुरू कर दिया गया है बुधवार को रैपिड रिस्पांस की टीम छाती पहुंच गई है।

कलेक्टर ने एसपी, डीएफओ, सीएमएचओ, नगर निगम, पीडब्ल्यूडी, पशु चिकित्सा सेवाएं एवं सभी सीईओ को पत्र लिखकर कहा कि बर्ड फ्लु के संक्रमण के रोकथाम हेतु पशु पालन एवं डेयरी मंत्रालय द्वारा जारी रिवाईस्ड एक्शन प्लान फॉर प्रिवेन्शन एंड कंटेनमेंट ऑफ एवियन एन्फ्लुएन्जा 2021 के अनुसार विभागीय समन्वय स्थापित कर जिले में आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। आमजनों की समस्याओं का समाधान एवं आवश्यक जानकारी के लिए जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष की स्थापना की जायेगी।

 पशु विकास विभाग द्वारा कार्य योजना के अनुसार आवश्यक संख्या में रैपिड सिस्पांस दल का गठन किया जायेगा। जिनके द्वारा मरे पक्षियों के निपटान पर्यवेक्षण एवं संक्रमित क्षेत्र में कीटाणु शोधन की कार्यवाही की जायेगी। इन दलों को पीपीई किट और सेनेटाईजेशन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराये जायेंगे। संक्रमित क्षेत्र में कुक्कुट पक्षियों को मारना और डिस्पोज करने की कार्यवाही राजस्व, पुलिस, नगरीय प्रशासन, पंचायत विभाग के प्रतिनिधियों के सामने शासन की गाईड लाईन के अनुसार पूरी प्रक्रिया सुनिश्चित की जायेगी। 

अंडा एवं कुक्कुट का परिवहन प्रतिबंधित

जिले के बाहर एवं भीतर कुक्कुट एवं अंडे का किसी प्रकार का भी परिवहन पूर्णत: प्रतिबंधित है। इसके साथ ही जिले में उक्त से संबंधित समस्त विक्रय केन्द्र की निगरानी भी जायेगी। जिसमें राजस्व, पुलिस एवं स्थानीय निकाय आपसी समन्वय बनाकर सतत निगरानी रखेंगे। प्रतिबंधित क्षेत्र के अलावा जिले की लगी सीमाओं में पुलिस और पीडब्ल्यूडी के समन्वय से बैरिकेडिंग किया जाएगा और वहां पर पुलिसकर्मियों की ड्यूटी भी लगाई जाएगी।

इस संबंध में उप संचालक पशु चिकित्सा विभाग डॉ एम एस बघेल ने बताया कि रैपिड रिस्पांस टीम छाती पहुंच गई है और वहां 1 किलोमीटर के दायरे के सभी पक्षियों को मारकर डिस्पोज़ किया जा रहा है। कलेक्टर के नए आदेश के तहत परिवहन प्रतिबंधित कर दिया गया है।



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने