बड़ों के साथ अब छोटे बच्चे भी मरादेव के पास विरोध प्रदर्शन में शामिल

 

कुकरेल तहसील में शामिल किए जाने का विरोध


भुपेंद्रसाहू

धमतरी।गंगरेल मरादेव को कुकरेल तहसील में शामिल किए जाने का विरोध ग्रामीणों द्वारा लगातार जारी है  शुक्रवार को दिन भर मरादेव के पास सड़क में डटे रहने के बाद शनिवार को सुबह से फिर से धरना पर बैठ गए हैं।जिससे गंगरेल जाने वाले सैलानियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रदर्शनकारी सड़क पर ही खाना पकाना करते दिखाई दिए।


 शुक्रवार को जिला प्रशासन के अधिकारी और पुलिस प्रशासन के लोग पहुंचे थे लेकिन बात नहीं बन पाई।रविवार को भी यदि प्रदर्शन होता है तो पिकनिक जाने वाले को निराशा होगी। गंगरेल सरपंच रमेश काड़े ने बताया कि कुकरेल तहसील में शामिल करने से सभी को परेशानी होगी। धमतरी से कुकरेल की दूरी ज्यादा होगी।छोटी छोटी सी बातों के लिए इतनी दूरी का सफर तय करना मुश्किल होगा ।उनकी मांग है कि कलेक्टर धरना स्थल में पहुंचकर हमें आश्वासन दें कि कुकरेल तहसील में यह गांव शामिल नहीं होगा,तभी हम धरना समाप्त करेंगे ।शुक्रवार को तहसीलदार लिखित आश्वासन देने के लिए तैयार थे, लेकिन जनता की मांग है कि कलेक्टर ही आकर उन्हें आश्वासन दे ।श्री काले ने कहा कि प्रदर्शन रविवार को भी जारी रहेगा गंगरेल पिकनिक आने वाले आगे नहीं पढ़ पा रहे हैं।

 ज्ञात हो कि कुकरेल को धमतरी जिला का छठवां तहसील घोषित किया गया है जिसका प्रकाशन राजपत्र में हो चुका है। कुकरेल में धमतरी के निकट गांव को शामिल करने के पहले दावा आपत्ति मंगाई गई थी लेकिन उस दौरान इसकी जानकारी ग्रामीणों को नहीं हो पाई। कुकरेल तहसील में 107 गांव को शामिल किया गया है।कई गांव धमतरी के पास में है जिनके लिए कुकरेल की दूरी ज्यादा होगी।




0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने