युवाओं ने CM बघेल से पूछा "क्या हुआ तेरा वादा"मैनपाट महोत्सव में छत्तीसगढ़िया कलाकारों की जगह भोजपुरी स्टारों के कार्यक्रम

 


आक्रोशित युवाओं ने छेड़ा #बायकॉट_मैनपाट_महोत्सव


रायपुर। मैनपाट महोत्सव में छत्तीसगढ़ी कलाकारों को आमंत्रित नही किये जाने से सोशल मीडिया में प्रदेश के युवाओं ने #बायकॉट_मैनपाट_महोत्सव का अभियान छेड़ दिया है। सोशल साइट इंस्टाग्राम में युवाओं ने बाक़ायदा बायकॉट मैनपाट की DP भी लगानी शुरू कर दी है।


 आगामी 12 से 14 फरवरी को सरगुजा जिला के मैनपाट में मैनपाट महोत्सव का आयोजन किया गया है। महोत्सव की तैयारियां भी लगभग पूर्ण हो चुकी है। आमंत्रण भी बंट चुके है। जिसमें प्रस्तुति देने वाले कलाकारों के नाम भी अंकित है। महोत्सव में बॉलीवुड के फेमस सिंगर कैलाश खेर, भोजपुरी सुपर स्टार खेसारी लाल यादव, अक्षरा सिंह, काजल राघवानी, पंजाबी गायक करन रंधावा समेत दूसरे राज्यो के कलाकारों को विशेष रूप से आमंत्रित किया गया है, जो अपनी प्रस्तुति देंगें।

 जैसे ही यह आमंत्रण सोशल मीडिया में वायरल हुआ, प्रदेश के युवाओं में रोष देखने को मिला और ट्वीटर समेत इंस्यग्राम, व्हाट्सएप में भी उन्होंने इस बात पर अपना विरोध जताया।

युवाओं ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से पूछा की आपने ही 2019 राज्योत्सव में घोषणा की थी की अब से राज्य के प्रत्येक सांस्कृतिक कार्यक्रम में सबसे पहला हक़ छत्तीसगढ़ के कलाकारों को दिया जायेगा। तो फिर मैनपाट महोत्सव में भोजपुरी कलाकारों, पंजाबी गायकों को बुला कर आप अपने ही वायदे से मुकर गए। 

इंस्टाग्राम में कई पेज में इस आयोजन के प्रति अपना विरोध जताते हुए स्थानीय कलाकारों को सम्मान और उनका हक दिए जाने की बात कहते हुए, मैनपाट महोत्सव के बायकॉट की बात भी कही। जिसका असर अब युवाओं के साथ-साथ बुद्धिजीवियों पर भी होने लगा है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने