सामाजिक सभा में कराया था उठक बैठक नाराज़ युवक ने की सास-ससुर की हत्या

 


आरोपी युवक के पिता ने हत्या में भी दिया था साथ


बलरामपुर।  सामाजिक सभा के उठक बैठक कराए जाने से नाराज़ पिता-पुत्र ने अपने रिश्तेदार की हत्या कर दी। बताया गया है कि मृतक-मृतिका हत्यारे युवक के सास-ससुर थे। जिनकी लाश पास्ता थाना इलाके के जंगल में मिली थी।

पुलिस को 25 मार्च दोपहर 3 बजे सुचना मिली कि  उलिया उफिया के बेदो बथान जंगल में महिला-पुरुष का एक्सीडेंट हुआ हैं। जानकारी मिलते हो कि पस्ता थाना पुलिस मौके पर पहुंची, प्रथम दृष्टया देखने पर किसी वजनी एवं धारदार हथियार से मारकर हत्या करना पाया गया था। जिसके बाद अज्ञात आरोपीयों के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर मामला विवेचना में लिया गया था।

जांच पड़ताल में संदेह के आधार पर नेजाम अंसारी एवं प्यारे मोहम्मद निवासी नवडीहा कुसमी को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। जिसमें उन्होंने अपना जुर्म कबूल लिया। आरोपी नेजाम ने बताया कि उसके पुत्र प्यारे मोहम्मद की शादी मेघुली विजय नगर निवासी रहमतुल्लाह की पुत्री मैमुन निशा से  मार्च 2020 मार्च में हुई थी। शादी के बाद से ही प्यारे के सास-ससुर उसे मेरी लड़की को अच्छे से नही रखते कह कर गाली गलौज करते थे और भरे समाज में उठक बैठक भी करवाये थे।


इस घटना से नेजाम और उसका बेटा प्यारे अपमानित महसुस करते थे। बताया गया है 23 मार्च को रहमतुल्लाह और ऐसुन निशा दोनों  नवडीहा गये थे जहां पर गांव वालों के सामने रहमतुल्लाह एवं ऐसुन निशा गाली गलौज करते जुबान काट देने की धमकी दिये थे। 25 मार्च को जब रहमतुल्लाह एवं ऐसुन निशा वापस अपने घर विजयनगर जा रहे थे। तो नेजाम और उसके बेटे प्यारे ने उनकी हत्या की योजना बनाई और अपने मारुती वेन क्रमांक CG11E0263 में गैता एवं बसूला रखकर उनका पीछा करते हुए  ग्राम उलिया बेंदोबथान जंगल पहुंचे।रहमतुल्लाह एवं ऐसुन निशा का रास्ता रोक उनपर गैति और बसूला से लगातार प्रहार किया जिससे उनकी मौत हो गई। घटना के बाद हत्या में प्रयुक्त गैति और बसूला के 5 किमी दूर कोदोडीपा के जंगल में फेंक दिया था। जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया। आरोपीयों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेज दिया गया।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने