Breaking: कोलियारी और म्युनिस्पल स्कूल में मिले पॉजिटिव, स्कूल किया गया बंद

 

छात्रों की जांच

भूपेंद्र साहू

धमतरी। कुरूद ब्लाक के 3 स्कूलों में विद्यार्थियों और शिक्षकों के पॉजिटिव आने के बाद बुधवार को  शहर के नगर पालिक निगम स्कूल के एक शिक्षक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्कूल स्कूल को बंद कर दिया गया दिन भर सभी विद्यार्थियों और शिक्षकों की जांच की गई जिसमें कोई भी पॉजिटिव नहीं पाए गए। मंगलवार को भखारा क्षेत्र के कोलियारी स्कूल में 3 विद्यार्थी और एक शिक्षक पॉजिटिव पाए गए थे वहां भी स्कूल को बंद कर दिया गया है।

देश के विभिन्न राज्यों और छत्तीसगढ़ के रायपुर दुर्ग शहरों के बाद धमतरी जिले में भी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अचानक बढ़ने लगी है। सोमवार को जिले में 16 मरीज पाए गए थे। इसके बाद मंगलवार को 29 मरीज पाए गए, जिसमें कुरूद ब्लाक में सबसे ज्यादा अट्ठारह मरीज थे ।कुरुद क्षेत्र के करगा गांव से 14 मरीज चिन्हित किए गए।कुरूद ब्लाक के ही भखारा क्षेत्र के कोलियारी स्कूल से 3 विद्यार्थी और एक शिक्षक संक्रमित पाए गए जिसके बाद एहतियातन स्कूल को बंद कर दिया गया। 

बुधवार को शहर से नगर निगम स्कूल के एक शिक्षक पॉजिटिव पाए गए जैसे ही इसकी जानकारी मिली प्राचार्य  अशोक पवार ने तुरंत डीईओ रजनी नेल्सन से संपर्क किया। शिक्षक संक्रमित मिलने की जानकारी दी। उन्होंने स्कूल को बंद करने का निर्देश दिया। साथ ही शाला विकास समिति अध्यक्ष पवन लिखी भी स्कूल पहुंचे।प्राचार्य श्री पवार ने अध्यक्ष से चर्चा कर स्कूल के सभी छात्र-छात्राओं का कोरोना टेस्ट कराने निर्णय लिया। सीएमएचओ ने स्कूल में स्वास्थ्य टीम भेजा है।छात्र-छात्राओं का एंटीजेन किट से टेस्ट किया गया।अच्छी बात यह कि फिलहाल किसी भी छात्र की रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई है।

चलेगा जागरूकता अभियान,होगी कार्यवाही 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ डीके तुर्रे ने बताया कि लोगों की लापरवाही की वजह से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है।अब ऐसे भीड़भाड़ वाले क्षेत्र मार्केट,हाट बाजार ,मेला,दूध वाले ,चाय, गुपचुप ठेला, होटल में जागरूकता अभियान चलाकर मास्क के लिए प्रेरित किया जाएगा। उल्लंघन करने वालों पर 200रु फाइन किया जाएगा। इसके अलावा जो चिन्हांकित कोमार्बिड पंजीकृत हैं उन्हें टीका के लिए प्रेरित भी किया जाएगा।

 शासकीय कार्यालयों में अधिकारियों को ई पंपलेट जारी करेंगे जिसे वे अपने अधीनस्थ कर्मचारियों को नीचे स्तर तक प्रसारित करेंगे। इसमें लोगों को घर से निकलते ही मास्क लगाने,भीड़ से परहेज करने, हाथों को साफ रखने, 45 से 59 वर्ष कोमार्बिड और 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को टीकाकरण करने कहा जाएगा।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने