बुलंद हौसले और स्टाफ की निगरानी में 92 वर्ष की फुलवा ने कोरोना को दी मात

 


धमतरी/नगरी।कहते है, जब हौसले बुलंद हो तो मौत को भी मात दिया जा सकता है l ऐसी ही कहानी है विकास खंड नगरी के ग्राम सियादेही के  92 साल की फुलवा बाई की । जिसने अपने दृढ़ इच्छाशक्ति और स्टाफ की सेवा से कोरोना को मात दे दी।

जितेंद्र कुर्रे एसडीएम नगरी के निर्देशन में गठित सर्विलेंस दल सेक्टर कुकरेल के सेक्टर प्रभारी  लक्ष्मी साहू RMA के नेतृत्व में सामुदायिक सर्वे के  दरम्यान 11 अप्रेल को घर घर सर्विलेंस के दरम्यान फिल्ड जाँच में  फुलवा बाई covid पॉजिटिव आई थी। उम्र और स्थिति को भांपते हुए  लक्ष्मी साहू ने डॉ डीआर ठाकुर बीएमओ नगरी से परामर्श कर उन्हें कोविड केयर सेण्टर नगरी रेफर कर दिया, जहाँ पर पर डॉ डीएन सोम के नेतृत्व में कोविड केयर सेण्टर के स्टाफ नर्स और सहयोगी स्टाफ के सफल देखभाल और उपचार से फुलवा बाई जल्द ठीक हो गई।


  स्टाफ नर्स डॉली,  दीपमाला, नेहा ने भी मरीज को घर जैसे माहौल  में उनको घर की कमी महसूस नहीं होने दिया।खूब ख्याल रखा  और फुलवा बाई ने भी उन्हें अपने नातिन के समान स्नेह दिया। 19 अप्रेल को जब फुलवा बाई डिस्चॉर्ज हो रही थी तो फुलवा बाई के साथ तीनो स्टाफ नर्स भी दुखी हुई । किन्तु स्टाफ नर्स को यह ख़ुशी थी कि उन्होंने फुलवा को पूरी तरह से स्वस्थ्य कर दिया l 


      डॉ डी के तुर्रे मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी धमतरी ने कहा कि इससे यह सबक मिलता है कि  कोविड के लक्षण होने पर तुरंत जाँच कर उपचार लेने पर कोविड को गंभीर स्थति  होने से बचाया जा सकता है l इसलिए जागरूक रहे, मास्क सेनिटाइजर का प्रयोग करे,  लक्षण दिखने पर जाँच उपचार और अपने आप को आइसोलेट करले l कोविंड  वैक्सीन जरूर लगाए ये हमे covid से लड़ने में मदद करता है। 



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने