आखिर किसके लिए पानी में जहर घोला गया था जिसे पीने के बाद मवेशियों की हुई मौत

 




धमतरी/नगरी। नगरी ब्लाक के ग्राम अरसीकन्हार के चार मवेशीयो की जहरीला पानी पीने से मृत्यु हो गई व दो मवेशी को ग्रामीणो ने उपचार से बचा लिया जिसकी शिकायत ग्रामीण मेचका थाना व फारेस्ट मे कर दोषियो के खिलाफ कार्रवाई व मुआवजे की मांग की है ।

ग्रामीणो के अनुसार सुबह से ही मवेशी जंगलो की ओर चरने चले गये जहा 11 बजे के आसपास सीआरपीएफ कैम्प मेचका के सामने मवेशी बेहोश होकर गिरने लगे जिसे देख ग्रामीण मवेशी को बचाने पशु विभाग मे जानकारी दिये व ग्रामीण घरेलू उपचार का उपयोग करते हुए नमक व इमली का घोल पशुओ को पिलाने लगे जहा दो मवेशी खतरे से बाहर हो गये व चार इलाज के अभाव मे दम तोड दिये 


दो दिन पहले दो मवेशी और मर चुके है 

ग्रामीणो ने बताया की दो दिन पहले अरसीकन्हार के दो किसान के मवेशी और मरे थे जहा ग्रामीण समझ नही पाये व किसी बिमारी व अन्य कारण के चलते मवेशी का मरना समझ रहे थे मगर आज 6 मवेशी एक साथ गिरे जिसके चलते जहर का मामला समझ मे आया 

 


घटना स्थल के आसपास हिरणो का विचरण स्थल है 

ग्रामीणो ने बताया की जहा घटना हुआ उस जगह हिरण विचरण करने आते है और जंगलो मे पानी की भी समस्या है सोन्ढूर केनाल से जंगलो मे झरण का पानी आता है वो भी सुख चुका है एक गड्डे मे कैम्प के पास थोडा पानी बचा है शायद इसी पानी मे शिकारियो द्वारा जहर मिला दिया गया होगा.. हिरण के शिकार के लिये जिसके चपेट मे गाव के मवेशी आ गये और जिनकी मृत्यु हो गई 

वही इस मामले में वन विभाग के अधिकारी का कहना है कि मामले की जानकारी अभी मिली है तत्काल भेज कर जाँच करवाते है ...

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने