बिना डाॅक्टरी पर्ची के दवाई नहीं देंगे दवा दुकान संचालक, झोलाछाप डाॅक्टरों के विरूद्ध अभियान चलाने के निर्देश

 

धमतरी । जिले के कुछ क्षेत्रों में बिना योग्यता के झोला छाप डाॅक्टरों द्वारा कोरोना संक्रमण संबंधी दवाइयां लेने की सलाह लोगों को दी जा रही है, जो कि पूरी तरह अवैधानिक है। इसके मद्देनजर कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी  जय प्रकाश मौर्य ने जिले में संचालित सभी क्वैक/झोलाछाप डाॅक्टरों पर कड़ी निगाह रखने का जिम्मा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, आयुक्त नगरपालिक निगम धमतरी, सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, खण्ड चिकित्सा अधिकारी, मुख्य नगरपालिका अधिकारी और सहायक नियंत्रक खाद्य और औषधि नियंत्रण को सौंपा है।


 उन्होंने स्वास्थ्य, राजस्व एवं पुलिस विभाग के संयुक्त दल को ऐसे झोलाछाप डाॅक्टरों के विरूद्ध अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। 

जिला दण्डाधिकारी ने दवा दुकान संचालकों को भी कड़े शब्दों में निर्देशित किया है कि बिना डाॅक्टरी पर्ची के किसी भी व्यक्ति को दवा का विक्रय नहीं किया जाए। 


  ज्ञात हो कि कुछ वर्षों पहले ऐसे बिना योग्यता वाले डॉक्टरों पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा कार्यवाही की गई थी। जो लंबे समय से कार्रवाई बंद है। हालांकि कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में यह चिकित्सक लोगों के लिए एक मसीहा के रूप में भी काम करते हैं लेकिन जब केस बिगड़ जाता है तो फिर योग्य चिकित्सक ही याद आते हैं। न सिर्फ ग्रामीण बल्कि धमतरी शहर में भी ऐसे कई बिना योग्यता वाले चिकित्सक प्रैक्टिस कर रहे हैं इन पर भी लगाम कसनी चाहिए। अब तो शासन प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार भी किया गया है,शहर में मेडिकल वेन भी पहुंचने लगी है।




0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने