विक्षिप्तों को रहने खाने के साथ गर्म कपड़े की व्यवस्था



नगरी। विक्षिप्तों को देखते हुए हर कोई डर कर दूर हो जाता है क्योंकि कब ऐसी घटना घट जाए या कोई नहीं जानता,लेकिन कुछ ऐसे लोग भी होते हैं जो  उन व्यक्तियों की मदद करने हमेशा आगे आते है।नगर के समाजसेवी, अध्यक्ष सर्वधर्म सेवा समिति सन्नी छाजेड़ ने नगर में घूम रहे विक्षिप्त लोगो को लगातार सात दिनों से दोनों समय भरपेट भोजन कराई । सर्द मौसम में गर्म कपड़े की जरूरत देखते हुए उनके लिए साल और कंबल की भी व्यवस्था की है। विक्षिप्त में दो पुरुष व एक महिला है जो लगभग 25 वर्ष की है जिसको किसी अप्रिय घटना से बचाने अपने दुकान के गलियारे में रात गुजारने की जगह दी है।
 

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने