निगम के सत्ता की चाबी किसके पास होगी,कौन बनेगा सिरमौर? बस चंद घंटे का इंतजार



भूपेंद्र साहू
धमतरी।135 साल पुराने नगर पालिका उसके बाद नगर निगम के सत्ता की चाबी इस बार किसके हाथों में होगी और कौन इसका सिरमौर बनेगा बस चंद घंटे में ही लोगों को पता चल जाएगा ।यह रात लोगों के लिए कशमकश भरी रात है। किसी की किस्मत बुलंदियों पर होगी तो कोई अर्श से फर्श तक पहुंच जाएगा ।सभी अपनी उम्मीदें लगाए हैं कि बेहतर ही होगा ।21 दिसंबर को हुए मतदान के बाद नगर निगम के 40 वार्डों के 157 प्रत्याशियों का भाग्य पेटी में बंद है, जो मंगलवार की सुबह 9:00 बजे से खुलना शुरू हो जाएगा ।इसमें से 40 ही खुश किस्मत होंगे जो अपने अपने वार्ड के पार्षद बनेंगे बाकी लोगों को निराशा हाथ लगेगी ।कौन वे 40 होंगे जो अपने वार्ड का प्रतिनिधित्व करेंगे और इन 40 के बीच एक वह व्यक्ति होगा जो महापौर की सिहासन तक पहुंचेगा ।135 साल पुराने इस नगर पालिका नगर निगम का पर भाजपा का अब तक कब्जा रहा है ।क्या इस अभेद्य किला को कांग्रेश ढहाने में कामयाब हो पाती है यह तो कुछ घंटों के बाद पता चल जाएगा ।21 दिसंबर को सभी प्रत्याशी अपनी अंतिम दम तक मेहनत करते हुए मतदाताओं को रिझा कर वोट डलवाने में कामयाब रहे ।लेकिन यह मतदाता किसे पसंद करते हैं यह मंगलवार की दोपहर बाद तक स्पष्ट हो जाएगा ।भाजपा और कांग्रेस से जो महापौर के दावेदार हैं उन्हें बस इतना ही लग रहा है कि उनकी पार्टी सत्ता में आ जाए। लेकिन जो शुरुआती विश्लेषण बता रहे हैं उसमें ज्यादातर लोगों का मानना यही है कि इस बार कांग्रेस कामयाब हो सकती है ।इन 40 वार्डों में निर्दलीयों के दम को भी नकारा नहीं जा सकता ।कुछ ऐसे वार्ड हैं जहां पर निर्दलीय काफी प्रभाव रखते हैं और उस प्रभाव के बलबूते पर वह जीत हासिल भी कर सकते हैं।
 

1/Post a Comment/Comments

टिप्पणी पोस्ट करें

नया पेज पुराने