राज्य में चयन के लिए जिला युवा उत्सव में ने कलाकारों दिखाया अपना हुनर


ओडिसी में  सरिता साहा, पारम्परिक वेशभूषा में  प्रदीप साहू ने मारी बाजी 

धमतरी । खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा आयोजित जिला स्तरीय युवा उत्सव का समापन एक दिसंबर को कुरूद में किया गया। इस अवसर पर विकासखण्ड के चयनित कलाकारों द्वारा 31 खेल एवं सांस्कृतिक विधाओं का प्रदर्शन किया गया। इनमें लोकनृत्य, लोकगीत, एकांकी, तबला, हारमोनियम, बांसूरी, सितार, गिटार, शास्त्रीय गायन, हिन्दुस्तानी कत्थक, ओडीसी, राउत नाचा, फुगड़ी, भौरा, गेड़ी, पारंपरिक व्यंजन, चित्रकला, वाद-विवाद, क्विज, निबंध, खो-खो, कबड्डी और वक्तृत्व कला शामिल है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  नम्रता गांधी ने बतौर मुख्य अतिथि समापन समारोह का उद्घाटन कर पहले और दूसरे स्थान पर रहे प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरित किया। खेल अधिकारी  सुधा कुमार ने बताया कि प्रत्येक विधा से पहला स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागी राज्य स्तरीय युवा उत्सव में हिस्सा लेंगे।

उन्होंने बताया कि 15 से 40 आयु वर्ग में पहले स्थान पर लोकनृत्य में केकराखोली मगरलोड का कमार नृत्य, लोकगीत तरार एवं साथी धमतरी और कठौनी समूह कुरूद, एकांकी में राजकुमार सिन्हा एवं साथी धमतरी, शास्त्रीय गायन और सितार में साक्षी मिश्रा, बांसूरी मेंगिरीश साहू, तबला मेंअपूर्व विश्वकर्मा, मृदंगम में नवीन सोनी, हारमोनियम में धनेन्द्र कुमार, गिटार में अतुल सिंह, कत्थक में परिधि गजेन्द्र, वक्तृत्व कला में मनीष सारथी, फुगड़ी में रेणुका सेन कुरूद, भौरा मेंतेजनारायण सिन्हा, गेड़ी कुमारी चेतना यादव बड़ी करेली, पारम्परिक वेशभूषा सुनीता यादव कुरूद, पारम्परिक व्यंजन गोदावरी यादव, चित्रकला श्रृति साहू, वाद-विवाद राजेश पाण्डेय, क्विज कुमार जितेश्वरी निषाद मगरलोड, निबंध में महेश्वर कुरूद, खो-खो बालक एवं बालिका में शासकीय विद्यालय सोरम, कबड्डी बालक में नगरी और बालिका में ग्राम झिरिया के प्रतिभागी रहे। इसी तरह 40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में पहले स्थान पर लोकनृत्य में राउत नाचा बेलतरा धमतरी, लोकगीत श्रवण सिन्हा एवं साथी बेलतरा, एकांकी और वाद-विवाद प्रतियोगिता में आकाश गिरी गोस्वामी, सितार में वीरेन्द्र साहू, तबला मेंरविकांत गजेन्द्र, हारमोनियम में श्रवण सिन्हा, ओडिसी में  सरिता साहा, पारम्परिक वेशभूषा में  प्रदीप साहू, चित्रकला और क्विज एवं निबंध में मोहम्मद मुख्तार खान रहे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने